comScore

अब सेंट्रल किचन से मिलेगा ग्रामीण क्षेत्र की स्कूलों में भी मीड डे मिल

अब सेंट्रल किचन से मिलेगा ग्रामीण क्षेत्र की स्कूलों में भी मीड डे मिल

डिजिटल डेस्क, नागपुर। हर बच्चे को शिक्षा से जोड़ने व उसे उच्च शिक्षित करने के लिए सरकार के प्रयास हर स्तर पर जारी हैं। शहर की स्कूलों में बच्चों को मीड डे मिल दिया जाता है वह भी सेंट्रल किचन के माध्यम से।  शहर के स्कूलों की तर्ज पर अब ग्रामीण क्षेत्र के स्कूलों में भी सेंट्रल किचन से मध्याह्न भोजन की आपूर्ति की जाएगी। शहर में चालू शैक्षणिक सत्र में महिला बचत समूह से आपूर्ति बंद कर सेंट्रल किचन से भोजन की आपूर्ति शुरू की गई है।

जिले की नगर परिषद तथा नगर पंचायत क्षेत्रों में सेंट्रल किचन से मध्याह्न भोजन आपूर्ति के लिए निविदा प्रक्रिया शुरू की गई है। हाईकोर्ट ने शहर के मनपा तथा िनजी अनुदानित स्कूलों में मध्याह्न भोजन आपूर्ति सेंट्रल किचन के माध्यम से करने के राज्य के शिक्षा विभाग को आदेश दिए हैं। मध्याह्न भोजन की गुणवत्ता, कम भोजन की आपूर्ति, चावल तथा अन्य सामग्री की कालाबाजारी, वितरण में अनियमितता को लेकर सरकार को अनेक शिकायतें मिल रही थीं। इसे देखते हुए सरकार ने शहर के साथ ग्रामीण क्षेत्र में भी सेंट्रल किचन से मध्याह्न भोजन आपूर्ति करने का निर्णय लिया है।

मनपा क्षेत्र में 1 जुलाई से सेंट्रल किचन के माध्यम से भोजन आपूर्ति शुरू कर दी गई है। उसी की तर्ज पर ग्रामीण क्षेत्र की नगर परिषद, नगर पंचायत क्षेत्रों में भी सेंट्रल किचन से आपूर्ति के लिए निविदा प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। कामठी तहसील के महादुला, हिंगना तहसील के वानाडोंगरी और वाड़ी, कलमेश्वर तहसील के मोहपा में जिला परिषद तथा निजी अनुदानित स्कूलों में सेंट्रल किचन से भोजन आपूर्ति शुरू करने की गतिविधियां तेज हो गई हैं।  शहर के ग्रामीण क्षेत्रों में यह सुविधा उपलब्ध होने के बाद इसे हर गांव तक शुरू करने की भी प्रशासन की तैयारी। इस सुविधा से जहां स्वस्थ व स्वच्छ सेहत की कल्पना साकार होगी साथ ही भ्रष्टाचार पर भी अंकुश लग सकेगा।

कमेंट करें
Yvtsl