दैनिक भास्कर हिंदी: बदमाशों पर एमपीडीए लगाकर जेल भेजा , क्राइम पर लगाम कसने पुलिस जुटी

November 4th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। शहर से क्राइम को जड़ से खत्म करने के लिए पुलिस विभाग ने पूरी तरह कमर कस ली है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस वर्ष करीब 80 से अधिक बदमाशों के खिलाफ एमपीडीए की कार्रवाई की जाने वाली है। अभी तक 43 गुुंडों पर एमपीडीए लगाकर उन्हें जेल भेजा जा चुका है। यह कार्रवाई अलग-अलग क्षेत्र के बदमाशों पर की जा चुकी है। इन बदमाशों में से कुछ बदमाशों को नागपुर, तो किसी को अकोला, अमरावती और नाशिक की जेल में भेजा गया है। 

मामूली सा बदमाश आंबेकर बन जाता है
इस वर्ष अभी तक अजनी, सक्करदरा, जरीपटका अादि सहित करीब 10 थानों की हद में रहने वाले बदमाशों के खिलाफ एमपीडीए (झोपडपट्टी दादा कानून) के तहत पुलिस ने इन आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। नागरिकों से पुलिस विभाग के आला अफसरों ने आह्वान करते हुए कहा है कि, किसी गुंडे या बदमाश से कोई परेशानी हो रही है, तो उसकी शिकायत संबंधित थाने में दें। उनकी सुनवाई नहीं होने पर वरिष्ठ अधिकारियों के पास मदद की गुहार लगाई जा सकती है। 

ताकि गिरोह बनाने का मौका न मिले
पुलिस विभाग का कहना है कि, कई बार छोटी-छोटी आपराधिक गतिविधियों को नजरअंदाज करने पर एक मामूली बदमाश संतोष आंबेकर बन जाता है। इसलिए पुलिस विभाग को सचेत किया गया है िक, स्लीपर सेल की तरह पनपने वाले बदमाशों पर समय रहते अंकुश लगाएं, जिससे उन्हें अपना गिरोह तैयार करने का मौका न मिल सके। 

अधिकारी-कर्मचारियों पर नजर रखी जाएगी
शहर पुलिस आयुक्त डा. भूषणकुमार उपाध्याय ने पुलिस अधिकारियों-कर्मचारियांे को भी चेतावनी दे दी है िक, गुंडे और बदमाशों के मामले में किसी तरह की कोताही को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कोताही बरतने वाले पुलिस अधिकारियों- कर्मचारियों पर भी अब नजर रखी जाएगी। यह जानकारी सूत्रों ने दी है।

यह बदमाश सुधर ही नहीं रहे थे
अजनी क्षेत्र में रहने वाले बदमाश लकी तेलंग को पुलिस ने कई बार सुधरने का अवसर दिया, लेकिन उसने अपनी आपराधिक गतिविधियों को जारी रखा, जिसके चलते पुलिस ने उसके खिलाफ एमपीडीए की कार्रवाई कर उसे जेल भेज दिया है। इस आरोपी के खिलाफ एक दर्जन से अधिक मामले दर्ज हैं, जिसमें हत्या के प्रयास, मारपीट, धमकी देने सहित अन्य आपराधिक मामले हैं।  आरोपी ऋतिक उर्फ दादू उर्फ जंगखाया नागदेवे ने जरीपटका क्षेत्र में काफी आतंक मचा रखा था। इस आरोपी के बारे मेें वरिष्ठ अधिकारियों के पास गुप्त शिकायतें मिलने पर उसके खिलाफ एमपीडीए की कार्रवाई करने का आदेश दिया गया। इस आरोपी के खिलाफ एमपीडीए की कार्रवाई कर उसे जेल भेज दिया गया है।

इस आरोपी पर भी मारपीट, हत्या के प्रयास, लूटपाट, धमकाने सहित कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। आरोपी शुभम उर्फ शूटर नेवारे ने सक्करदरा क्षेत्र में अपने साथियों के साथ उत्पात मचाने लगा था। वह बस्ती में घातक शस्त्र लेकर घूमते हुए नागरिकों से गाली-गलौज करता था। वह खुलेआम किसी को भी धमकाता था। इस आरोपी के बारे में पुलिस ने उसे अपनी आपराधिक गतिविधियों को बंद करने के लिए कई बार मौका दिया, लेकिन यह शातिर अपराधी अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा था, इसलिए पुलिस ने इस आरोपी के खिलाफ भी एमपीडीए की कार्रवाई कर उसे जेल भेज दिया है। शहर पुलिस विभाग 8 गिरोह पर मकाेका की कार्रवाई इस वर्ष में अक्टूबर माह तक कर चुका है। 

खबरें और भी हैं...