दैनिक भास्कर हिंदी: महिला की अस्मत लूटकर लिया पति से 7 साल पुरानी दुश्मनी क बदला, मामला दर्ज

September 26th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  पांचपावली क्षेत्र में एक महिला से दुष्कर्म किए जाने का मामला सामने आया है। पीड़िता का आरोप है कि शस्त्र की नोंक पर उसके साथ दुष्कर्म किया गया। उसके पति के साथ हुए विवाद प्रकरण को वापस लेने के लिए उस पर दबाव डाला गया। इंकार करने पर दुष्कर्म किया गया। पीड़िता की शिकायत पर उसके पड़ोसियों सहित चार आरोपियों पर पुलिस ने धारा  376(1), 506(2), 34 के तहत मामला दर्ज किया है। घटना पांचपावली थानांतर्गत हुई।  मामले में पीड़िता ने न्यायालय में गुहार लगाई, तब पुलिस ने कार्रवाई की। जिन आरोपियों पर मामला दर्ज किया गया है, उनमें जगजीत सिंह उर्फ रोमी गुरुचरण सिंह चंडोक (57), नरेंद्रपाल सिंह गुरुचरण सिंह चंडोक (59), गुरमीत सिंह सैनी (58) और तनवीर सिंह गुरुमीत सिंह सैनी (32) शामिल हैं। पीड़िता और आरोपी चंडोक बंधु एक-दूसरे के परिचित बताए जा रहे हैं। पीड़िता के पति और चंडोक बंधुओं के बीच विवाद चल रहा था। आरोप है कि चंडोक बंधुओं ने वर्ष 2012 में पीड़िता के पति के साथ मारपीट की थी, उस समय पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था।  इसके बाद आरोपियों ने पीड़िता के पति के खिलाफ भी मामले दर्ज करवाए थे। 

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार 3 अगस्त 2019 को  रात करीब 11.30 बजे घर का पानी खत्म होने पर पीड़िता छत पर टंकी में पानी देखने गई थी। पीडिता ने पुलिस को बताया कि उस समय उक्त आरोपी छत पर बैठकर शराब पी रहे थे। तभी रोमी चंडोक ने अपने साथियों से कहा कि वह अपने दुश्मन की पत्नी है। फिर आरोपियों ने उसे पकड़ लिया और छेड़खानी की। रोमी और गुरुमीत सैनी ने शस्त्र निकाला और पीड़िता को छत से नीचे फेंकने व जान से मारने की धमकी दी। फिर नरेंद्रपाल ने पीड़िता के साथ दुष्कर्म किया और तनवीर सिंह ने वीडियो बनाते हुए फोटो निकाले। 

न्यायालय से लगाई गुहार

पीड़िता को धमकाया गया कि यदि उसके पति ने केस वापस नहीं लिया, तो वीडियो और फोटो सोशल मीडिया पर वायरल कर देंगे। पीड़िता  उनके चंगुल से छूटने के बाद पति को घटना की जानकारी दी। उसके बाद पति के साथ पांचपावली थाने में शिकायत करने गई। पुलिस ने शिकायत ले ली,  लेकिन उस समय मामला दर्ज नहीं की। काफी समय बाद भी जब मामला दर्ज नहीं हुआ, तब पीड़िता ने प्रथम श्रेणी न्याय दंडाधिकारी के न्यायालय में गुहार लगाई। न्यायालय ने उसकी अर्जी की सुनवाई के बाद आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच करने के आदेश दिए।  पांचपावली पुलिस ने चारों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया। समाचार लिखे जाने तक किसी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई थी। जांच जारी है।
 

खबरें और भी हैं...