दैनिक भास्कर हिंदी: भाजपा के संकटमोचक महाजन की शिवसेना पक्ष प्रमुख ने थपथपाई पीठ

February 26th, 2019

डिजिटल डेस्क, मुंबई। शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे का अपनी पार्टी के मंत्रियों और नेताओं से ज्यादा भाजपा नेता और प्रदेश के जलसंसाधन मंत्री गिरीश महाजन पर भरोसा है। वे लोकसभा चुनाव में शिवसेना के उम्मीदवारों को जीत दिलाने के लिए महाजन की मदद भी लेंगे। उद्धव के बयान से कम से कम यही नजर आ रहा है। दरअसल सोमवार को देर रात मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने भाजपा और शिवसेना के गठबंधन के बाद दोनों दलों के विधायकों के लिए वर्षा पर भोज का आयोजन किया था। इस मौके पर उद्धव ठाकरे भी पहुंचे थे। बैठक मेंमुख्यमंत्रीऔर उद्धव ने दोनों दलों के विधायकों को लोकसभा चुनाव की तैयारी को लेकर संबोधित किया। सूत्रों के अनुसार उद्धव ने भाजपा के मंत्री महाजन की जमकर तारीफ की। बैठक मेंउद्धव ने कहा कि मैंने भाजपा से गठबंधन क्यों किया इसका सही कारण मैंने अब तक किसी को नहीं बताया है। 

शिवसेना पक्ष प्रमुख ने मंत्री महाजन की पीठ थपथपाई

उद्धव ने अपने बगल में बैठे मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, विधानसभा अध्यक्ष हरिभाऊ बागडे और भाजपा के मंत्रियों से पूछा कि मैं कारण बता दुं क्या। इसके बाद मंत्रियों ने कहा कि बताइए। इस पर उद्धव ने कहा कि मैंने भाजपा से गठबंधन इसलिए किया क्योंकि मुझे शिवसेना के कोटे वाली लोकसभा सीटों के लिए आप (भाजपा) में से एक मंत्री चाहिएऔर वह हैं गिरीष महाजन। उद्धव की यह बात सुनकर मुख्यमंत्री सहित भाजपा और शिवसेना के मंत्रियों ने ठहाका लगाया। फिर उद्धव ने सामने बैठे महाजन की ओर देखा।उद्धव ने महाजन से कहा है कि आप हमारे कोटे की लोकसभा की सीटों के लिए मदद करने आइए। हमें भी अपनी सीटें जीतनी है। इस बार बारामती लोकसभा सीट के साथ पूरा महाराष्ट्र जितना है। 

भाजपा के संकटमोचक माने जाते हैं महाजन 

मुख्यमंत्री के बेहद करीबी माने जाने वाले महाजन पिछले चार सालों में भाजपा सरकार और पार्टी संगठन में संकटमोचक बनकर ऊभरे हैं। महाजनने सरकार के खिलाफकिए जा रहे किसान और आदिवासी समेत अन्ना हजारे के आंदोलन को खत्म करवाया है। वहींपालघर लोकसभा उपचुनाव, नाशिक, जलगांव, धुलिया, अहमदनगर मनपा चुनावमें भाजपा को बड़ी सफलता दिलाने में अहम भूमिका निभाई है। उत्तर महाराष्ट्र मेंमहाजन भाजपा के प्रभावशाली नेताके रूप में उभरकर सामने आए हैं। महाजन ने हाल ही में बारामती लोकसभा सीट के लिए भी राष्ट्रवादी कांग्रेस को चुनौती दी थी। राकांपा प्रमुख शरद पवार का गृह क्षेत्र बारामती राष्ट्रवादी कांग्रेस का गढ़ माना जाता है। 
 

खबरें और भी हैं...