दैनिक भास्कर हिंदी: दशहरा रैली में ताकत दिखाएगी शिवसेना, लोकसभा चुनाव को लेकर बीजेपी का रोडमैप तैयार

September 26th, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। आगामी लोकसभा चुनाव से पहले शिवसेना पार्टी की ताकत दिखाने के लिए दशहरा रैली में जोरदार प्रदर्शन करेगी। पार्टी की तरफ से दशहरा रैली 19 अक्टूबर को आयोजित की जाएगी। बुधवार को शिवसेना भवन में रैली की तैयारी को लेकर बैठक हुई। जिसमें पार्टी के वरिष्ठ नेता सुभाष देसाई, सांसद संजय राऊत समेत पार्टी के वरिष्ठ नेता मौजूद थे। बैठक में रैली के माध्यम से दमदार शक्ति प्रदर्शन करने के लिए बड़े पैमाने पर कार्यकर्ताओं की भीड़ जुटाने को लेकर चर्चा हुई। समझा जा रहा है कि पार्टी की दशहरा रैली में शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे लोकसभा चुनाव को लेकर अपनी भूमिका साफ करेंगे। हालांकि पार्टी ने आगामी चुनाव अकेले लड़ने की घोषणा की है पर भाजपा अब शिवसेना से गठबंधन के लिए तैयार नजर आ रही है। ऐसे में उद्धव क्या फैसला लेंगे। इस पर सभी की निगाहें लगी हुई हैं। 

लोकसभा चुनाव जीतने भाजपा ने तैयार किया रोडमैप

आगामी लोकसभा चुनाव के लिए सत्ताधारी भाजपा ने कमर कस लिया है। लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा के पक्ष में माहौल बनाने के लिए पार्टी के पदाधिकारी और कार्यकर्ता अभी से अगले मार्च महीने तक विभिन्न कार्यक्रम और आयोजनों के जरिए लगातार जमीन पर सक्रिय रहेंगे। समाज के हर तबके को जोड़ने की कोशिश होगी। लोकसभा चुनाव में जीत के लिए भाजपा ने रोडपैम तैयार कर लिया है। इसके साथ ही विपक्ष की तरफ से लगाए जा रहे आरोपों का मुहंतोड़ जवाब देने के लिए भाजपा राज्य के 92 हजार बूथों पर पार्टी कार्यकर्ताओं को उतारेगी। बुधवार को दादर स्थित मुंबई भाजपा कार्यालय वसंत स्मृति में पार्टी पदाधिकारी, जिला अध्यक्ष, लोकसभा प्रभारी और लोकसभा संयोजकों की बैठक हुई। बैठक में लोकसभा चुनाव की तैयारी को लेकर समीक्षा की गई। साथ ही चुनाव के लिए पार्टी के रोडपैम को जमीन पर प्रभावी रूप से लागू करने को लेकर रणनीति बनाई गई। बैठक में चुनाव मतदाता पंजीयन, संवाद केंद्र, विस्तारक योजना, पार्टी के विभिन्न मोर्चों की सक्रियता को लेकर चर्चा हुई। 

सूत्रों के अनुसार पार्टी ने लोकसभा चुनाव की तैयारी के रोडमैप के लिए अलग-अलग मंत्रियों, विधायकों और सांसदों के लिए जिम्मेदारी तय की गई है। खिलाड़ी और विभिन्न खेलों के प्रति रुचि रखने वाले लोगों को आकर्षित करने के लिए पार्टी 28 सितंबर से 12 जनवरी तक राज्य भर में ‘खेलो महाराष्ट्र’ कार्यक्रम आयोजित करेगी। 29 सितंबर को शौर्य दिवस के माध्यम से पूर्व सैनिकों को जोड़ा जाएगा। महात्मा गांधी जंयती के उपलक्ष्य में 2 अक्टूबर से 30 जनवरी के बीच सभी विधानसभा क्षेत्रों में 150 किमी तक पदयात्रा निकाली जाएगी। इसमें 75 पुरुष और 75 महिलाओं का समावेश होगा। 31 अक्टूबर को सरदार पटेल जयंती पर एकता दौड़ आयोजित की जाएगी। बिरसा मुंडा जंयती के उपलक्ष्य में 1 से 30 नवंबर के बीच आदिवासियों से संपर्क बढ़ाने के लिए कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। 26 नवंबर से 6 दिसंबर के बीच दलितों को पार्टी से जोड़ने के लिए मुंबई में इंदू मिल परिसर में श्रमदान किया जाएगा। इंदू मिल में ही डॉ. बाबासाहब आंबेडकर का स्मारक बन रहा है। 1 दिसंबर से 1 जनवरी के बीच विधानसभावार पन्ना प्रमुख सम्मलेन आयोजित किया जाएगा। महिलाओं को आकर्षित करने के लिए बचत समूह और महिला मंडलों का कार्यक्रम 3 से 14 जनवरी के बीच होगा।

वरिष्ठ नागरिकों के लिए कुंभ दर्शन  

पार्टी चुनाव से पहले वरिष्ठ नागरिकों को लुभाने के लिए कुंभ दर्शन कराएगी। 15 जनवरी से 4 मार्च के बीच श्रद्धालुओं को इलाहाबाद में लगने वाले कुंभ में ले जाएगी।

उपलब्धियों को गिनाने बंटवाई जाएगी पुस्तक 

केंद्र और प्रदेश की भाजपा सरकार की उपलब्धियों को जनता के बीच पहुंचाने के लिए पार्टी दो पुस्तक बंटवाएगी। केंद्र की भाजपा सरकार की सफलताओं की एक पुस्तक कांग्रेस के 47 साल बनाम भाजपा के 47 महीने के शासनकाल से जुड़ी होगी। दूसरी पुस्तक प्रदेश की भाजपा सरकार की होगी। जिसमें आघाड़ी सरकार के 15 साल बनाम भाजपा सरकार के 4 साल के शासनकाल की उपलब्धियों का बखान किया जाएगा। पुस्तक के जरिए बताएगी कि कृषि, आवास, रोजगार जैसे क्षेत्रों में भाजपा ने आघाड़ी सरकार की तुलना में बेहतर फैसला किया है।

सत्ता के लिए विपक्ष बोल रहा असत्य कथन 

भाजपा नेता व वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने कहा कि सत्ता प्राप्त करने के लिए विपक्षी दल कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस जनता को गुमराह करने के लिए असत्य कथन बोल रही है। भाजपा के कार्यकर्ता विपक्ष के आरोपों पर अब आक्रामक तरीके से जवाब देंगे।  

खबरें और भी हैं...