वर्धा: घंटागाड़ी कर्मियों के वेतन की मांग को लेकर शिवसेना ने दी दस्तक

November 25th, 2021

डिजिटल डेस्क, वर्धा। बीते चार दिनों से घंटागाड़ी कर्मचारी द्वारा वेतन व अन्य सुविधा न मिलने के चलते हड़ताल शुरू की है। जिसके चलते बुधवार 24 नवंबर को शिवसेना ने हड़ताल कर रहे कर्मचारी के साथ नप में दस्तक दी। नप मुख्याधिकारी को निवेदन सौंप एनएसपीएल कंपनी द्वारा तत्का  वेतन व अन्य सुविधाएं देने की मांग की है। अन्यथा अनशन का इशारा शिवसेना ने दिया है। बता दे कि एनएसपीएल कंपनी नागपुर ने शहर के नप क्षेत्र के घंटागाड़ी का ठेका लिया है। इस कंपनी द्वारा इन गाड़ियों पर कर्मचारियों को नियुक्ति की गई। परंतु कंपनी द्वारा नियुक्त कर्मचारियों को ईपीएफओ, सीपी समेत अन्य सुविधा तो छोड़ो बीते 5 से 7 माह से वेतन नहीं दिया  गया है। जिसके चलते विगत 4 दिनों से घंटागाड़ी कर्मी हड़ताल पर होकर कंपनी की नीतियों का विरोध किया है। जिसके चलते बुधवार 24 नवंबर को शिवसेना ने हड़ताल कर रहे कर्मचारियों के साथ नप पर दस्तक दी। नप मुख्याधिकारी द्वारा एनएसपीएल कंपनी के प्रबंधक को निवेदन भेज तत्काल कर्मचारियों के बकाया वेतन व अन्य‍ सुविधाएं देने की मांग की। नप मुख्याधिकारी ने 7 दिन के भीतर कंपनी से बात कर हल निकालने का आश्वासन दिया। मांग पूरी नहीं होने पर अनशन किया जाएगा ऐसा इशारा शिवसेना ने दिया है। इस समय शिवसेना के शहर प्रमुख उज्ज्वल काशिकर, विवेक कापसे, प्रवीण कावरे, अक्षय गोटकर, रमेश गेडाम, दिनेश कलमकर,शुभम फटिंग, राजेश नगराले, राहुल मस्के, अक्ष्यय कईके, प्रफुल काबंले, समीर मोटीजे, वामनराव वाघमारे, गिरीष सावले, पुरुषोत्तकम दुडमते, चंद्रकांत घुमे समेत शिवसेना कार्यकर्ता व घंटागाड़ी के कर्मचारी उपिस्थत थे।

खबरें और भी हैं...