comScore

पुत्र की संदिग्ध मौत पर पुलिस की चुप्पी - पीडि़त पिता ने पुलिस अधिकारियों से लगाई न्याय की गुहार 

पुत्र की संदिग्ध मौत पर पुलिस की चुप्पी - पीडि़त पिता ने पुलिस अधिकारियों से लगाई न्याय की गुहार 

डिजिटल डेस्क जबलपुर । सदर बागरी मोहल्ला निवासी रवि भाटिया ने पुलिस अधिकारियों से अपने पुत्र की मौत की निष्पक्ष जाँच की गुहार लगाई है। पीडि़त पिता का आरोप है कि उसका पुत्र मजदूरी करने महर्षि स्कूल के समीप चल रहे निर्माण स्थल पर गया था और वहाँ उसकी संदिग्ध मौत हो गई। पीडि़त का आरोप है कि ओमती पुलिस ने इस मामले में चुप्पी साध ली है। इस संबंध में पीडि़त पिता द्वारा दी गई शिकायत में बताया गया कि उसका बेटा सिद्धार्थ भाटिया उम्र 28 वर्ष विगत 20 अप्रैल को मजदूरी करने के िलए निकला था। वह आनंद टाकीज महर्षि स्कूल के पास एक निर्माण स्थल पर मजदूरी कर रहा था। दोपहर ढाई बजे के करीब उन्हें बेटे की मौत की खबर मिली थी। सूचना पाकर वे मौके पर पहुँचे तो उन्हें बताया गया कि उनके बेटे के शव को मेडिकल भेज दिया गया है। उनका आरोप है कि इसकी सूचना उन्होंने थाने में दी थी लेकिन अब तक उन्हें बेटे की मौत के कारणों का पता नहीं चला है।  न ही पुलिस द्वारा यह बताया जा रहा है कि जहाँ पर निर्माण कार्य हो रहा था, वह किसका था और वहाँ सुरक्षा के क्या इंतजाम थे और यह हादसा कैसे हुआ इन सब बातों को लेकर पुलिस द्वारा अब तक कोई कार्रवाई की गई है। उधर इस मामले में अेामती थाने के एसआई सतीश झारिया ने बताया कि उक्त श्रमिक की मौत करंट लगने से हुई थी। मर्ग कायम कर जाँच की जा रही है और जाँच उपरांत कार्रवाई की जाएगी। 

कमेंट करें
i7RTq