comScore

अस्पतालों से गायब हो रहे कोरोना से मरने वालों के शव, सोमैया ने गृहमंत्री-स्वास्थ्य मंत्री को लिखा पत्र 

अस्पतालों से गायब हो रहे कोरोना से मरने वालों के शव, सोमैया ने गृहमंत्री-स्वास्थ्य मंत्री को लिखा पत्र 

डिजिटल डेस्क, मुंबई। पिछले कुछ दिनों में महानगरपालिका के अस्पतालों से कोरोना संक्रमण से जान गंवाने वाले छह लोगों के शव गायब होने के मुद्दे पर भाजपा नेता और पूर्व सांसद किरीट सोमैया ने स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे और गृहमंत्री अनिल देशमुख को खत लिखकर मामले में दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। मीडिया से बातचीत में सोमैया ने कहा कि पिछले एक सप्ताह में आधा दर्जन लोगों के शव मुंबई के अस्पतालों से गायब होने की शिकायतें आ चुकी हैं। कांदिवली के शताब्दी अस्पताल से गायब एक 80 वर्षीय बुजुर्ग विट्ठल मुले का शव सोमवार रात को बोरीवली रेलवे स्टेशन पर मिला है। इससे पहले केईएम अस्पताल से सुधाकर खाडे, राजावाडी अस्पताल से मेहराज शेख, वर्ली अस्पताल से मधुकर पवार और जोगेश्वरी स्थित ट्रामा अस्पताल से राकेश शर्मा का शव गायब मिला। यही नहीं मुंबई के सायन अस्पताल में जान गंवाने वाली ज्ञानवती देवी का शव परिजनों को मिले, उससे पहले ही उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया। सोमैया के मुताबिक सरकार को उन लोगों की मानसिक स्थिति के बारे में सोचना चाहिए, जिन्हें अपने परिजनों के शव के लिए अस्पतालों के चक्कर काटने पड़ रहे हैं। उन्होंने मांग की कि ऐसे मामलों में लापरवाही बरतने वाले कर्मचारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।

रेलवे स्टेशन कैसे पहुंचे कोरोना संक्रमित बुजुर्ग?

80 वर्षीय विठ्ठल मुले को शनिवार दोपहर कांदिवली शताब्दी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। रविवार को उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई और सोमवार सुबह 8:30 बजे के करीब परिवार वालों को बताया गया कि मुले अस्पताल के अपने बेड पर नहीं हैं। परिजनों ने मुले के गायब होने की शिकायत पुलिस से की, इसी बीच पुलिस को सोमवार देर रात बोरीवली रेलवे स्टेशन पर एक 80 वर्षीय बुजुर्ग का शव मिला। परिजनों को शव देखने के लिए बुलाया गया, जिसके बाद इस बात की पुष्टि हुई कि शव मुले का ही है। आशंका है कि मुले ने आत्महत्या की है, लेकिन कोरोना पॉजिटिव पाए गए मुले अस्पताल से बाहर कैसे आए यह साफ नहीं है। महापौर किशोरी पेडणेकर ने मामले की छानबीन के बाद दोषियों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन दिया है।  

कमेंट करें
Afngv