comScore

रेत माफियाओं ने सुखा दिया सोन नदी को, बंद खदान में कर रहे अवैध खनन

December 24th, 2018 18:05 IST
रेत माफियाओं ने सुखा दिया सोन नदी को, बंद खदान में कर रहे अवैध खनन

डिजिटल डेस्क, शहडोल। प्रशासन के उदासीन रवैए के कारण रेत माफियाओं के हौसले बुलंद हैं। रेत माफिया रेत की कालाबाजारी खुल्लम-खुला कर रहे हैं। चौंकाने वाला पहलू यह है कि रेत माफिया सोन नदी पर रेत का अवैध खनन करते रहे और प्रशासान आंखों में पट्टी बांधे रहा, जिसका नतीजा यह हुआ कि सोन नदी पूरी तरह सूख चुकी है।

बंद खदानों में हो रह खनन
थाना बुढ़ार अंतर्गत जरवाही रेत खदान से रोजाना दर्जनों ट्रक रेत निकाली जा रही है, जबकि यह खदान प्रशासन के रिकार्ड में बंद हो चुकी है। एसआर ग्रुप द्वारा लिए गए खदान को महीनों पहले सरेंडर किया जा चुका है। कंपनी द्वारा पटासी व बटुरा खदानों को भी सरेंडर किया गया था, जहां से भी बड़ी मात्रा में अवैध रूप से रेत खनन होता रहा। प्रशासन द्वारा दोनों खदानों के रास्ते बंद कराए गए, लेकिन अब जरवाही घाट में अवैध कारोबारियों द्वारा सोन नदी के भीतर तक वाहन उतारे जा रहे हैं। दर्जनों लेबरों से रेत निकलवाकर वाहनों में भर कर परिवहन कराया जा रहा है। सूत्रों के अनुसार अवैध कारोबार में पुलिस की मिलीभगत हो सकती है।

अवैध परिवहन करते वाहन जब्त
खनिज विभाग ने कार्रवाई करते हुए तीन वाहनों को जब्त किया है। तहसील गोहपारू के ग्राम असवारी में खनिज पत्थर का अवैध परिवहन करते ट्रैक्टर मय ट्राली चेचिस क्रमांक 33193360 को जब्त किया गया। ग्राम सेमरा में रेत से भरी ट्राली बिना नंबर को जब्त कर गोहपारू थाना में खड़ा किया गया। इसी प्रकार तहसील जयसिंहनगर के ग्राम मसीरा में खनिज रेत का अवैध परिवहन करते 2 हाईवा क्रमांक एमपी18 एच 4862 तथा एमपी 18 जीए 2847 को जब्त किया गया। सूत्रों की माने तो प्रशासन को लगातार शिकायत की जा रही है, लेकिन प्रशासन महज औपचारिकता कर अपनी जिम्मेदारी की इतिश्री कर लेता है।

इनका कहना है
विभाग द्वारा लगातार कार्रवाई की जा रही है। बंद हो चुकी खदानों तक जाने के रास्तों को बंद कराया जा रहा है।
फरहत जहां, जिला खनिज अधिकारी

कमेंट करें
gckST