• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • Soybean sown in 1 lakh 31 thousand 884.21 hectare area, estimated production of 20 lakh quintals

वर्धा: 1 लाख 31 हजार 884.21 हेक्टेयर क्षेत्र में हुई सोयाबीन की बुआई, 20 लाख क्विंटल उत्पादन का अनुमान

October 11th, 2021

डिजिटल डेस्क, वर्धा। बोनस की फसल के रूप में पहचानी जानेवाली सोयाबीन की फसल की जिले में बड़े पैमाने में बुआई की जाती है। इसमें भी अर्ली सोयाबीन के बीजों की अनेक किसानों द्वारा बुआई की जाती है। इस बार के खरीफ मौसम में जिले के किसानों ने 1 लाख 31 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में सोयाबीन की बुआई की है। फिलहाल अर्ली  सोयाबीन की फसल की कटाई के लिए व मशीन की सहायता से सोयाबीन निकालने के काम को किसानों ने गति दी है, उन्हंे प्रति हेक्टेयर 10 से 12 बोरों का उत्पादन मिल रहा है। अन्य किसान अपनी फसल की कटाई जल्द से जल्द किस प्रकार करे  इसके लिए सोयाबीन उत्पादक प्रयास कर रहे हंै। इस बार जिले में 19 लाख 80 हजार क्विंटल सोयाबीन का उत्पादन होने का अनुमान कृषि विभाग की ओर से जताया जा रहा है।

तेजी से घटे दाम

अगस्त व सितंबर माह में बाजार में सोयाबीन को प्रति क्विंटल  10 हजार रुपए दाम मिले थे।  इसके बाद  केंद्र सरकार की आयात नीति  के कारण सोयाबीन के दाम दिनों दिन घट रहे हैं। हिंगणघाट बाजार में कुछ दिन पूर्व सोयाबीन को 3 हजार रुपए से 5 हजार रुपए प्रति क्विंटल तक के दाम दिए गए। जिले में सोयाबीन की सरकारी खरीदी अब तक शुरू नहीं हुई है लेकिन   कुछ प्रमाण में किसान  अपना माल बाजार में बेचने  के लिए ला रहे हैं। इस बार सरकार  ने सोयाबीन को 3 हजार 950 रुपए प्रति क्विंटल समर्थन दाम घोषित किए हंै। किसानों का माल बाजार में आने पर जिले में सोयाबीन का कितना उत्पादन हुआ यह स्पष्ट होने वाला है। 

तहसीलों में बुआई प्रति हेक्टेयर क्षेत्र : इस बार आर्वी तहसील में 11 हजार 41 हेक्टेयर क्षेत्र में, आष्टी तहसील में 8 हजार 745 हेक्टेयर क्षेत्र में, कारंजा तहसील में 13 हजार 123 हेक्टेयर क्षेत्र , सेलू तहसील में 17 हजार 261 हेक्टेयर क्षेत्र तथा वर्धा तहसील में 18 हजार 134.06 हेक्टेयर क्षेत्र में सोयाबीन की बुआई की गई है।
कुछ दिन पूर्व हुई बारिश के कारण जिले के विविध क्षेत्रों के सोयाबीन की फसल का नुकसान हुआ है। कुछ स्थानों में सोयाबीन की फल्ली में अंकुर फूट गए थे। इस कारण इस बार सोयाबीन का   उत्पादन प्रभावित  होगा, एेसा किसानों द्वारा बताया जा रहा है।  

इस बार संतोषजनक उत्पादन होगा 

अनिल इंगले, जिला अधीक्षक कृषि अधिकारी के मुताबिक बारिश रुकते ही जिले के किसानों ने सोयाबीन की कटाई और  आगे की प्रक्रिया के कामों को गति दी है। इस बार जिले में सोयाबीन का संतोषजनक उत्पादन होगा, एेसा चित्र फिलहाल दिखाई दे रहा है।