comScore

ठेके पर कर्मचारियों की भर्ती के खिलाफ 30 जून से राज्यव्यापी आंदोलन, 7 जुलाई से कामकाज बंद की चेतावनी 

ठेके पर कर्मचारियों की भर्ती के खिलाफ 30 जून से राज्यव्यापी आंदोलन, 7 जुलाई से कामकाज बंद की चेतावनी 

डिजिटल डेस्क, मुंबई। चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की भर्ती की बजाय दूसरे स्त्रोंतों के जरिए उन्हें ठेकों पर नियुक्त करने के राज्य सरकार के फैसले के खिलाफ कर्मचारियों में असंतोष है। फैसले के खिलाफ राज्य सरकारी चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी मध्यवर्ती संगठन के नेता भाऊसाहेब पठान ने आगामी 30 जून से राज्यव्यापी आंदोलन का ऐलान किया है। संगठन ने इस बाबत मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, चिकित्सा शिक्षा मंत्री अमित देशमुख, मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा सचिव और संचालक को पत्र लिखा है। सरकार के अध्यादेश के मुताबिक ग्रुप 1 से 3 तक सरल सेवा भर्ती के जरिए नियुक्तियां की जाएंगी, लेकिन चतुर्थ श्रेणी के 3632 पदों के लिए ठेके पर नियुक्तियां होंगी। 

पठान के मुताबिक सरकार ने 1981 से 922 बदली कर्मचारियों और स्वास्थ्य स्थापना के राजीव गांधी जीवनदायी  योजना के कर्मचारियों को नियमित करने या अनुकंपा नियुक्ति जैसा कोई फैसला नहीं लिया है। कई सालों से सरकारें मांगों को अनदेखा कर रहीं हैं इसलिए 30 जून से चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी आंदोलन शुरू करेंगे। उन्होंने बताया कि आंदोलन चरणबद्ध तरीके से होगा 30 जून से 2 जुलाई तक राज्य भर में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी काला फीता बांधकर काम करेंगे और खाने के लिए मिलने वाली 1 घंटे की छुट्टी के दौरान प्रदर्शन करेंगे। 3 से 5 जुलाई तक रोजाना 2 घंटे काम बंद आंदोलन किया जाएगा। 7 जुलाई को कामकाज पूरी तरह बंद कर दिया जाएगा। अगर सरकार ने इसके बावजूद कोई फैसला नहीं लिया, तो आंदोलन अनिश्चितकालीन चलेगा और सरकार का मनमाना रवैया जारी रहा तो सारी सरकारी सेवाएं ठप कर दी जाएंगी। 

कमेंट करें
7sKyJ