दैनिक भास्कर हिंदी: शराब बिक्री के खिलाफ अब विद्यार्थी उतरेंगे सड़क पर, शिकायत के बावजूद पुलिस नहीं कर रही कार्रवाई

July 23rd, 2018

डिजिटल डेस्क, शंकरपुर(चंद्रपुर)। क्षेत्र में अवैध शराब के कारोबार को रोकने व शराब की वजह से बर्बाद हो रहे परिवार को बचाने के लिए क्षेत्र विद्यार्थियों ने आंदोलन की चेतावनी दी है। बताया जाता है कि माना जमात विद्यार्थी युवा संगठन की ओर से शराब विक्रेताओं की जानकारी देने के बावजूद भी पुलिस उन विक्रेताओं पर कोई भी कार्रवाई नहीं कर रही है। फलस्वरूप अवैध शराब का व्यवसाय बढ़ता ही जा रहा है। 8 दिन में शराब बिक्री पर अंकुश नहीं लगाया गया तो शंकरपुर पुलिस चौकी के सामने विद्यार्थी युवा संगठन द्वारा अनशन करने की चेतावनी दी जा रही है।

शंकरपुर गांव नागपुर, भंडारा जिले से सटा हुआ है। जिससे शंकरपुर में बड़े पैमाने पर शराब आती है। आरोप है कि  पुलिस इस ओर जानबूझकर अनदेखी करती है। हर चौक में शराब विक्रेता व शराब पीने वालों की भीड़ जमा रहती है। जिससे विवाद भी होते रहते हैं। इसका सामना आम नागरिकों को करना पड़ता है। छोटे बच्चों के हाथों शराब तस्करी करायी जा रही है। युवाओं पर भी इसका असर हो रहा है। पुलिस सिर्फ दिखावे की कार्रवाई करती है। इन सभी बातों पर जिला पुलिस अधीक्षक स्वयं ध्यान देकर 8 दिनों के भीतर शराब विक्रेताओं पर कार्रवाई करें अन्यथा आदिवासी माना जमात के विद्यार्थी संगठन के सदस्य पुलिस चौकी के सामने अनशन पर बैठेंगें ऐसी चेतावनी 54 विद्यार्थियों ने अपने हस्ताक्षर के साथ दी है। 

दीवान के नीचे गड्ढा खोदकर छुपा रखी थी शराब
शराब बंदी वाले चंद्रपुर जिले में शराब की तस्करी व बिक्री करने के लिए विक्रेता-तस्कर नए-नए हथकंडे अपना रहे हैं। अब तक कई नए हथकंडे सामने आ चुके हैं। ऐसा ही एक मामले में शराब विक्रेता ने अपने बेडरूम में दीवान के नीचे एक बड़ा गड्ढा बनाया था, जहां वह अवैध शराब का भंडार रखता था।

 


रामनगर पुलिस थाना अंतर्गत आनेवाले जलनगर वार्ड के खंजर मोहल्ले में अवैध शराब की गुप्त जानकारी मिलते ही रामनगर पुलिस थाने के थानेदार दीपक गोतमारे व सहायक पुलिस निरीक्षक संदिप दरेकर के मार्गदर्शन में खंजर मोहल्ले में सर्च मुहिम चलाई गई। जिसमें 5 अलग-अलग घरों में छापामार कार्रवाई के दौरान 2 लाख 40 हजार से अधिक की शराब जब्त की गई। अवैध शराब बिक्री करनेवाले विक्रेता ने नया हथकंडा अपनाकर खुद के घर के बेडरूम में दीवान के नीचे बड़ा गड्ढा खोदकर उसमें करीब 300 पेटी शराब रखने लायक जगह बनायी थी। रामनगर पुलिस ने करीब दो घंटे शोध मुहिम चलाकर अवैध शराब बिक्री करनेवाले 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया।