दैनिक भास्कर हिंदी: आत्महत्या की कोशिशें : बांद्रा-वरली सी लिंक से पकड़ा गया युवक, इमारत पर चढीं महिला को पुलिस ने बचाया

July 23rd, 2019

डिजिटल डेस्क, मुंबई। बांद्रा वरली सी लिंक से कूद कर एक युवक ने आत्महत्या का प्रयास किया, लेकिन चौकन्ने सुरक्षा रक्षकों ने उसे रोक लिया। हालांकि इसके बाद युवक ने खुद पर चाकू से वार कर भी अपनी जान लेने की कोशिश की। उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं छानबीन में पता चला है कि वह दो साल पहले गुजरात के वडोदरा स्थित अपने घर से भाग कर मुंबई आया था और परिवार ने उसकी गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई थी। पुलिस ने युवक के परिवार वालों को इसकी सूचना दे दी है। आत्महत्या की कोशिश करने वाले युवक का नाम उदय परमार (19) है। वह वरली कोलीवाडा इलाके में रहता है और दक्षिण मुंबई में स्थित मनीष मार्केट में काम करता है। परमार टैक्सी से बांद्रा-वरली सी लिंक पर पहुंचा था, यहां उसने टैक्सी रुकवाई और समुद्र में छलांग लगाने की कोशिश की लेकिन वहां तैनात सुरक्षा रक्षक ने उसे रोक लिया। इसके बाद परमार ने अपने साथ लाए चाकू से अपने हाथ और गले पर वार किया जिससे वह बुरी तरह जख्मी हो गया। परमार को इलाज के लिए भाभा अस्पताल में भर्ती कराया गया है। छानबीन में खुलासा हुआ कि परमार जब 17 साल का था वह अपने वडोदरा स्थित घर से भागकर मुंबई आ गया था। स्थानीय देसर पुलिस स्टेशन में उसके अपहरण का मामला दर्ज है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक वह छोटे मोटे काम कर गुजर बसर कर रहा था लेकिन इससे खुश नहीं था। इसीलिए उसने आत्महत्या का फैसला किया। सीनियर इंस्पेक्टर सुखलाला वर्पे ने बताया कि लड़के के परिवार से संपर्क कर उसने बारे में सूचना दे दी गई है।  

आत्महत्या के लिए बहुमंजिला इमारत पर चढीं महिला, पुलिस ने बचाया

ससुराल वालों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए एक महिला ठाणे ग्रामीण एसपी ऑफिस के सामने स्थित बहुमंजिला इमारत पर चढ़ गई। इमारत की पांचवीं मंजिल पर स्थित खिड़की पर बैठकर महिला वहां से कूदने की धमकी देने लगी। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस की टीम उसे समझा बुझाकर वापस लाने में कामयाब रही। पुलिस के मुताबिक प्रीति केने पगारे नाम की महिला ने कल्याण तालुका पुलिस स्टेशन में अपने ससुराल वालों के खिलाफ उत्पीड़न के आरोप में एफआईआर दर्ज कराई थी। पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार किया था लेकिन उन्हें जमानत मिल गई। इसके बाद आरोपी महिला को नजरअंदाज करने लगे। इससे नाराज महिला फिर ससुराल वालों की गिरफ्तारी की मांग कर रही थी। वह इससे पहले भी पुलिस स्टेशन में हाथ की नस काटकर आत्महत्या की कोशिश कर चुकी है। 
 

खबरें और भी हैं...