दैनिक भास्कर हिंदी: स्वाभिमानी किसान संगठन विधानसभा की 49 सीटें लड़ेगा, पूर्व सांसद राजू शेट्टी ने की घोषणा

July 4th, 2019

डिजिटल डेस्क, पुणे। स्वाभिमानी किसान संगठन के नेता पूर्व सांसद राजू शेट्टी ने पुणे में घोषणा करते हुए कहा कि संगठन द्वारा आगामी विधानसभा की 49 सीटें लड़ी जाएंगी। उस दृष्टि से तैयारियां शुरू कर दी गई है। बता दें कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस-राकांपा आघाड़ी ने स्वाभिमानी को सांगली तथा हातकणंगले यह दो सीटें दी थी लेकिन दोनों सीटें हाथ से गई । हातकणंगले में तो खुद शेट्टी ही हार गए। इसकी पृष्ठभूमि पर स्वाभिमानी ने विधानसभा की अभी से तैयारियां शुरू कर दी है। संगठन की दो दिवसीय राज्य कार्यकारिणी बैठक पुणे में संपन्न हुई। इस समय विविध विषयों के अलावा आगामी विधानसभा चुनाव पर चर्चा हुई। और 49 सीटें लड़ने का फैसला लिया गया। उस दृष्टि से रणनीति भी बनाई जा रही है। 
प्याज का निर्यात अनुदान शुरू करें

केन्द्र सरकार ने प्याज का निर्यात अनुदान बंद करने के कारण प्याज के दरों में प्रति क्विंटल 400 रूपये गिरावट आई हुई है। प्याज उत्पादकों का नुकसान हो रहा है। इसलिए केन्द्र सरकार तत्काल अनुदान शुरू करें। सरकार किसानों को कर्ज तथा बिजली बिल माफ करें। सात बारह कोरा करें। ऐसी विविध मांगे बैठक में की गई। 20 जुलाई से पहले महाराष्ट्र के सभी किसानों केा खरीफ के लिए फसल कर्ज उपलब्ध कराने के आदेश बैंकों को दिए जाए। जहां फसल कर्ज देना टाला जाएगा वहां स्वाभिमानी किसान संगठन द्वारा आंदोलन किया जाएगा ऐसी चेतावनी भी दी गई।    

युवा किसान ने की आत्महत्या

साहूकार से लिए हुए कर्ज से परेशान युवा किसान ने फासी लगाकर खुदकुशी की। यह घटना पुणे के पुरंदर तहसील स्थित शिंदेवाड़ी में सामने आई।पुलिस ने बताया कि दत्तात्रय माणिकराव काकड़े (27) ऐसे खुदकुशी किए हुए युवक का नाम है। घटना को लेकर पुरंदर पुलिस थाने में अकस्मात मौत का मामला दर्ज किया गया है। काकड़े माता, पिता, पत्नी के साथ शिंदेवाड़ी में रहता था। उसने पोल्ट्री फार्म का व्यवसाय शुरू किया था। उसके लिए स्थानीय साहूकारों से 5 लाख रूपये ब्याज से लिए थे। उक्त रूपये लौटाने के लिए साहूकार काकड़े के पीछे पड़े हुए थे। इस बारे में उसने रिश्तेदार तथा मित्रों को नहीं बताया था। काकड़े ने पतसंस्था में कर्ज के लिए कोशिशें की लेकिन उसे कर्ज नहीं मिला। 5 लाख रूपये जमा नहीं हो रहे इस बात से परेशान काकड़े ने बुधवार को पोल्ट्री फार्म के शेड में फासी लगाकर खुदकुशी की। काकड़े अपने माता पिता का एक लौटा बेटा था।आठ महिने पहले ही उसकी शादी हुई थी। घटना से गांव में शाेक का माहौल बना हुआ है। 

खबरें और भी हैं...