comScore

पहले दिन फेल हुआ बिना मास्क वालों को पकड़ने का लक्ष्य 

पहले दिन फेल हुआ बिना मास्क वालों को पकड़ने का लक्ष्य 

डिजिटल डेस्क, मुंबई। त्यौहारों से पहले महानगर में बिना मास्क लगाए सार्वजनिक जगहों पर घूमने वालों के खिलाफ शुरू की गई मुहिम में पहले दिन मुंबई मनपा (बीएमसी) को अपेक्षाकृत सफलता नहीं मिली। पहले दिन मुंबई महानगर पालिका ने 4 हजार 369 लोगों से मास्क न पहनने पर जुर्माना वसूला जबकि लक्ष्य रोजाना 20 हजार लोगों से जुर्माना वसूलने का था। जुर्माने के तौर पर 8 लाख 73 हजार रुपए वसूल किए गए। बता दें कि महानगर में सार्वजनिक ठिकानों पर मास्क न पहनने वालों से 200 रुपए जुर्माना वसूलने का प्रावधान है। मुंबई महानगर पालिका आयुक्त इकबाल सिंह चहल ने एक महीने तक यह मुहिम चलाने का ऐलान करते हुए महानगर में सार्वजनिक स्थानों पर मास्क न पहनने वालों  की बडी संख्या को देखते हुए संबंधित कर्मचारियों को रोजाना 20 हजार लोगों से जुर्माना वसूलने का लक्ष्य दिया था। हालांकि आम दिनों के मुकाबले मुहिम के पहले दिन चार गुना ज्यादा जुर्माना वसूला गया। अब तक महानगर में रोजाना औसतन 950 लोगों से मास्क न पहनने पर जुर्माना वसूल किया जाता था जबकि अभियान शुरू होते ही यह आंकड़ा 4300 से ऊपर पहुंच गया। मुंबई महानगर पालिका ने शहर में बिना मास्क पहने सार्वजनिक स्थानों पर धूमने वालों के खिलाफ 980 लोगों की टीम बनाई है जो अप्रैल महीने से अब तक 38 हजार 866 लोगों से एक करोड़ 5 हजार रुपए से ज्यादा जुर्माना वसूल चुकी है।
 

रोजाना 20 हजार लोगों से जुर्माना वसूलने का लक्ष्य

कोरोना संक्रमण के खतरे के बावजूद बिना मास्क लगाए सार्वजनिक जगहों पर घूमने वालों के खिलाफ मुंबई महानगर पालिका ने सख्ती बरतने का फैसला किया गया है। बड़ी संख्या में लोगों के बिना मास्क घूमने के मामलों को देखते हुए महानगर में रोजाना 20 हजार लोगों से जुर्माना वसूलने का लक्ष्य संबंधित कर्मचारियों को दिया गया है। इकबाल सिंह चहल ने सोमवार के कहा था कि यह अभियान करीब एक महीने चलेगा और वे खुद इसका जायजा लेंगे। चहल ने कहा था कि महानगर में अब भी बड़ी संख्या में ऐसे लोग हैं, जो सार्वजनिक जगहों पर मास्क नहीं पहन रहे हैं। इसके चलते हालात खराब हो सकते हैं और मुंबई में लॉकडाउन पूरी तरह खत्म होने में और समय लग सकता है। बता दें कि सार्वजनिक जगहों पर बिना मास्क पहने जाने वालों से 200 रुपए जुर्माना वसूला जाता है। मुंबई में 2 लाख 27 हजार से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं जबकि 9300 लोगों की इस बीमारी के चलते मौत हो चुकी है। हालांकि संक्रमण के मामलों में अब कमी आ रही है और फिलहाल महानगर में कोरोना संक्रमण के 22 हजार 369 मामले हैं। औसत मृत्युदर भी 4.90 से घटकर 4.14 फीसदी हो गई है। कोरोना से उबरने वाले मरीजों की संख्या भी बढ़ रही है और एक महीने में यह 74 फीसदी से बढ़कर 85 फीसदी तक पहुंच गई है। टेस्ट भी लगातार बढ़ रहे हैं और अब तक महानगर में 12 लाख 61 हजार लोगों की कोरोना संक्रमण के लिए जांच की जा चुकी है। 

 
     
 
 

कमेंट करें
Gprzd