दैनिक भास्कर हिंदी: सूदखोरों ने धमकाया, तो व्यापारी ने की आत्महत्या -पुलिस कर रही जांच

September 24th, 2019

डिजिटल डेस्क  जबलपुर। ओमती थाना क्षेत्र स्थित नेपियर टाउन निवासी प्रतिष्ठित किराना व्यापारी इंद्रकुमार भगतानी  ने सुबह अपने घर पर फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली। परिजनों ने उन्हें फंदे पर लटकता देख फंदे से उतारकर जबलपुर हॉस्पिटल लेकर पहुँचे जहाँ चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। किराना व्यापारी द्वारा आत्मघाती कदम उठाए जाने से परिजन सदमे में हैं, लेकिन उन्हें जानने वालों का कहना है कि सूदखोरों द्वारा धमकाए जाने के कारण उन्होंने यह कदम उठाया है। उधर सूचना मिलने पर पुलिस मामले की जाँच में जुटी है। 
  सूत्रों के अनुसार भँवरताल गार्डन के पास नवीन विद्या भवन रोड पर इंद्रकुमार भगतानी उम्र 52 वर्ष की  किराना दुकान है, दुकान के ऊपर ही उनका घर है। सुबह सवा दस बजे के करीब वे सोकर उठे और अपनी पत्नी को नीचे दुकान में जाने के लिए कहा, वहीं उनका पुत्र अपने कमरे में सो रहा था। पत्नी के नीचे जाते ही वे अपने कमरे में गये और फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली। कुछ देर बाद उनकी पत्नी उन्हें बुलाने के लिए पहुँची तो पति को फंदे में झूलता देख पुत्र मयूर को सूचना दी। सूचना पाकर परिजनों ने तत्काल उन्हें फंदे से नीचे उतारा और अस्पताल लेकर पहुँचे जहाँ चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। अस्पताल की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुँची और मर्ग कायम कर प्रकरण जाँच में लिया है। 
दिमागी रूप से थे परेशान
 किराना व्यापारी द्वारा आत्मघाती कदम उठाये जाने पर उनके परिजनों व  परिचितों का कहना था कि व्यापारिक लेन-देन के चलते  वे पिछले कुछ दिनों से परेशान थे। वहीं कुछ लोगों का कहना था कि कुछ सूदखोरों ने उन्हें घर पहुँचकर धमकाया था जिसके बाद से वे तनाव में थे और उन्होंने फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली। 
कैमरे से खुलेगा राज 
 उधर ओमती पुलिस का कहना है कि व्यापारी द्वारा आत्महत्या किए जाने के कारणों का खुलासा नहीं हो सका है। घटना के बाद परिजन सदमे में हैं और कुछ भी कहने की स्थिति में नहीं थे। जाँच अधिकारी का कहना है कि मृतक की दुकान में लगे कैमरों से यह पता लगाया जाएगा कि पिछले कुछ दिनों में कौन उनसे मिलने आया था और किसने उन्हें धमकाया था तभी सच्चाई का खुलासा हो सकेगा। 
 

खबरें और भी हैं...