आंशिक नपाई कर लौटा दल, मौके पर बनाया पंचनामा: रज्जाक के मकान की नाप-जोख करने पहुँची तकनीकी टीम को नहीं मिली चाबी

October 12th, 2021

डिजिटल डेस्क जबलपुर। माफिया दमन दल की कार्रवाई के तहत हिस्ट्रीशीटर अब्दुल रज्जाक के घंटाघर रपटा स्थित मकान की नाप-जोख के िलए बनाई गई तकनीकी टीम मौके पर पहुँची तो वहाँ रज्जाक परिवार से तो कोई नहीं िमला, जबकि कुछ वकील जरूर उपस्थित रहे। उनके पास भी मकान की चाबी नहीं थी केवल आँगन तक ही टीम पहुँच सकी जिससे नाप-जोख नहीं हो पाई। आंशिक नपाई के बाद टीम ने ओमती थाना प्रभारी की मौजूदगी में मौके का पंचनामा बनाया।
बताया जाता है िक जिला प्रशासन के निर्देश पर नगर निगम ने अब्दुल रज्जाक के मकान सम्बंधी भवन और भूमि के दस्तावेज प्रस्तुत करने का नोटिस जारी िकया था। नोटिस के िखलाफ न्यायालय में वाद दायर कर दिया गया। इस पर न्यायालय ने आदेश जारी किया कि नोटिस में दस्तावेज प्रस्तुत करने कहा गया है इसलिए दस्तावेज प्रस्तुत किए जाएँ और निगम यह भी देखे कि दस्तावेज के अनुसार ही भवन बना है या नहीं। इसके लिए एक तकनीकी टीम बनाई गई जिसमें िनगम, पुलिस और जिला प्रशासन के अधिकारियों को शामिल िकया गया है। यही टीम मंगलवार को रपटा पहुँची और रज्जाक के मकान की नपाई का प्रयास िकया गया।
छत तक भी जाने मिले तो हो नपाई-
निगम अधिकारियों ने कहा िक मौके पर मौजूद वकीलों ने केवल आँगन की चाबी सौंपी जिससे पूरे मकान की नपाई संभव ही नहीं थी। उनसे कहा गया कि तकनीकी टीम को कम से कम छत तक जाने दिया जाए, ताकि वहीं से क्षेत्रफल आदि का नाप किया जा सके, लेकिन वकीलों ने कहा कि उनके पास केवल आँगन की चाबी है। इससे मौके पर पंचनामा बनाया गया जिसे अब न्यायालय में प्रस्तुत किया जाएगा।
पता ही नहीं चल पाया कि कितने वर्गफीट में बना है मकान-
निगम अधिकारियों का कहना है कि अब्दुल रज्जाक की ओर से कुछ नक्शे न्यायालय में पेश किए गए थे उनके आधार पर ही मकान की नपाई करनी थी कि मकान नक्शे के अनुसार बना है या नहीं, लेकिन चाबी न मिलने से पता ही नहीं चल पाया कि मकान कितने वर्गफीट में बना है और नक्शे के तहत बना है या नहीं। अधिकारियों ने कहा कि करीब 8 हजार वर्गफीट भूमि पर 4 मकान बने हैं।

 

खबरें और भी हैं...