दैनिक भास्कर हिंदी: ग्वालियर में पकड़ाए आरोपी के तार शहर के निजी अस्पताल से जुड़े

May 10th, 2021



एसटीएफ की टीम आरोपी को लेकर पहुुंचेगी शहर
डिजिटल डेस्क छिंदवाड़ा। ग्वालियर एसटीएफ ने बीते शनिवार को सिवनी के एक युवक को रेमडेसिविर की कालाबाजारी करते गिरफ्तार किया था। प्राथमिक पूछताछ में आरोपी ने छिंदवाड़ा और सिवनी के निजी अस्पतालों में सक्रिय दलालों से इंजेक्शन हासिल करना बताया है। एसटीएफ की टीम आरोपी को लेकर सिवनी और छिंदवाड़ा के लिए निकली है। बताया जा रहा है कि सोमवार को पहले टीम सिवनी पहुंची थी। इसके बाद वे आरोपी को लेकर छिंदवाड़ा पहुंचेगी। 8 मई को ग्वालियर रेलवे स्टेशन से सिवनी निवासी 42 वर्षीय कमलेश्वर प्रसाद दीक्षित को एसटीएफ की टीम ने पांच रेमडेसिविर इंजेक्शन के साथ पकड़ा था। कमलेश्वर पेशे से वकील है। एसटीएफ की टीम ने मोबाइल पर एक मरीज की इलाज की पर्ची भेजकर कमलेश्वर दीक्षित को अपने झांसे में लिया था। 1 लाख 50 हजार रुपए में सौदा तय होने पर कमलेश्वर इंजेक्शन की सप्लाई करने ग्वालियर पहुंचा था। एसटीएफ की टीम ने रेलवे स्टेशन से ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया था।
शहर में कनेक्शन, सक्रिय दलाल से लिया था इंजेक्शन
एसटीएफ के सूत्रों की माने तो सिवनी निवासी कमलेश्वर दीक्षित ने पूछताछ में बताया कि पूर्व में उसके किसी परिचित को कोविड के इलाज के लिए छिंदवाड़ा के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। यहां रेमडेसिविर इंजेक्शन की आवश्यकता पडऩे पर अस्पताल में सक्रिय एक दलाल से उसका संपर्क हुआ था। जिसके माध्यम से उसने बाद में भी इंजेक्शन लिए हैं। दलाल से हासिल इंजेक्शन की वह कालाबाजारी कर रहा था। हालांकि अधिकारियों ने निजी अस्पताल और दलाल का नाम उजागर नहीं किया है।
क्या कहते हैं अधिकारी
॥ग्वालियर एसटीएफ की टीम द्वारा अब तक संपर्क नहीं किया गया है। यदि एसटीएफ कार्रवाई हेतु मदद मांगती है तो पूरा सहयोग किया जाएगा।
- विवेक अग्रवाल, एसपी

खबरें और भी हैं...