पन्ना: घर.घर जाकर किया जा रहा है लार्वा सर्वे का कार्य

July 22nd, 2022

डिजिटल डेस्क, पन्ना। आम नागरिकों को डेंगू और चिकुनगुनिया से नियंत्रण एवं बचाव के संबंध में जागरुक करने के उद्देश्य से जुलाई माह को डेंगू निरोधक माह के रुप में मनाया जा रहा है। इसके अंतर्गत विभिन्न माध्यमों से डेंगू के लक्षण, रोकथाम एवं बचाव के उपाय के बारे में जानकारी दी जा रही है। डेंगू प्रचार रथ के माध्यम से चिन्हित ग्रामों एवं शहरी क्षेत्र में माईकिंग एवं पम्पलेट्स का वितरण किया जा रहा है। इसके साथ ही लोगों को यह समझाईश भी दी जा रही है कि डेंगू फैलाने वाला मच्छर कन्टेनर ब्रीडर है अर्थात यह बर्तनों में संग्रहित साफ पानी में अण्डे देता है। बर्तनों में संग्रहित पानी को ढंक कर रखें एवं सप्ताह में एक बार पानी को अवश्य बदलें। बर्तन को रगडकर धोयें। यदि पानी को बदलना संभव न हो तो सप्ताह में एक बार मीठा तेल इतनी मात्रा में डालें कि पानी के ऊपर एक परत बन जाये। डेंगू के लक्षण तेज बुखार, सिर दर्द, आंख के पीछे तरफ  दर्द मांसपेशियों एवं जोंडों में दर्द और शरीर में लाल दाने या चकत्ते होते हैं। डेंगू के जांच एवं उपचार की सुविधा जिला चिकित्सालय में नि:शुल्क उपलब्ध है। स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के द्वारा घर-घर जाकर लार्वा सर्वे का कार्य किया जा रहा है। गत बुधवार को पन्ना शहर के सिविल लाईन एवं इन्द्रपुरी कॉलोनी के 67 घरों में लार्वा सर्वे किया गया। इसके अंतर्गत 352 कन्टेनर्स चेक किये गयेए जिनमें से 23 कन्टेनर्स में मच्छरों के लार्वा पाये गयेए जिनको लार्वा सर्वे टीम के द्वारा अपने समक्ष नष्ट करवाया गया। जागरुकता के लिए पम्पलेट्स का वितरण भी किया गया।