comScore

लाइनमैन पर किया बाघ ने हमला, बिजली फॉल्ट सुधारने गई थी पूरी टीम 

लाइनमैन पर किया बाघ ने हमला, बिजली फॉल्ट सुधारने गई थी पूरी टीम 

डिजिटल डेस्क, सिवनी। बिजली फॉल्ट सुधारने गए एक लाइनमैन पर यहां गत शाम एक बाघ ने हमला कर बुरी तरह घायल कर दिया। लाइनमैन पर हमला हुआ देख उसके दूसरे साथियों ने हल्ला मचाकर पत्थर फेंक कर बाघ को भगाया, तब कहीं जाकर उसकी जाना बच सकी। बाघ के हमले में एक लाइनमैन बुरी तरह घायल हो गया बाकि सभी सुरक्षित हैं। घायल को कुरई के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है। इधर घटना को लेकर गांव में फिर दहशत बन गई। लोगों ने वन विभाग से जल्द से जल्द उचित कदम उठाने की मांग की है। उनका कहना कि बाघ अब नरभक्षी हो रहा है तभी वह अब इंसानों पर हमला करने लगा है।

ये है घटना
मिली जानकारी के अनुसार दक्षिण सामान्य वन मंडल के परासपानी गांव में मंगलवार की दोपहर को बिजली लाइन सुधारने के लिए कुरई से करीब आधा दर्जन बिजली कर्मचारी गए थे।गन्ने के खेत से होकर गुजरी लाइन को सुधार रहे टीम के लाइनमैन यशवंत बिसेन पर बाघ ने हमला कर दिया। चीख पुकार पर आसपास मौजूद बिसेन के साथियों ने हल्ला मचाया और पत्थर फेंकना शुुरु कर दिया। तभी बाघ वहां से चला गया। तत्काल बिसने को पीपरवानी अस्पताल लाया गया। यहां से उसे कुरई अस्पताल लाया गया।

तीन दिन में दूसरी घटना
ज्ञात हो कि इसके पहले परासपानी गांव में ही शौच करने गए पंचम गजभे पर बाघ ने हमला कर दिया था। उसके पालतु कुत्ते की वजह से उसकी जान बच गई। इसके बाद वन विभाग ने आवश्यक कार्रवाइ कर गांव के आसपास गश्त बढ़ाई। वहीं वॉटरहोल में पानी डालना शुरु किया। दूसरी घटना के बाद गांव में फिर लोग दहशत में आ गए हैं। 

बाघ बाघिन का मूवमेंट
जानकारी के अनुसार परासपानी गांव के जंगल में इस समय बाघ और बाघिन का मूवमेंट है। शायद बाघ का यह जोड़ा आसपास अपना रहवास बनाना चाह रहा है। हालांकि वन विभाग ने उन्हें एक साथ नहीं देखा है। उनकी मौजूदगी के साक्ष्य जरूर मिले हैं। इस घटना को लेकर वन विभाग का अमला अलर्ट हो गया है। फिर से लोगों को समझाइश देने का काम शुरु कर दिया गया। ज्ञात हो कि इसके पहले अरी क्षेत्र में एक बाघ ने कई लोगो को घायल किया था। बाद में उसे पकड़कर संजय टाइगर रिजर्व में छोडा गया था।

इनका कहना है
बिजली विभाग की टीम लाइन सुधारने गई थी। तभी लाइनमैन पर बाघ ने हमला कर उसे घायल किया है। लोगो को समझाइश दे रहे हैं। गश्त बढ़ाई गई है।
टीएस सूलिया, डीएफओ, दक्षिण सामान्य वन मंडल
 

कमेंट करें
lcOFn