दैनिक भास्कर हिंदी: विदेशी दंपति को लूटने वाले दो ईरानी गिरफ्तार, खुद को पुलिस बता छीने 4 हजार डॉलर

February 2nd, 2019

डिजिटल डेस्क, मुंबई। इलाज के लिए मुंबई आए यमन के दंपति को लूटने वाले दो ईरानी नागरिकों को विक्रोली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने खुद को मुंबई पुलिस की अपराध शाखा का अधिकारी बताकर जांच के बहाने लूटपाट की थी। करीब 100 से ज्यादा सीसीटीवी कैमरे खंगालने के बाद पुलिस को आरोपियों का सुराग मिल और उन्हें अंधेरी इलाके से दबोच लिया गया। गिरफ्तार आरोपियों के नाम अली फिरोज हमिदानी और जोहरी पेमन अकबर है। दोनों पिछले 10 सालों से मुंबई में रह रहे हैं। पुलिस ने आरोपियों के पासपोर्ट भी जब्त कर लिए हैं। आरोपियों ने जिन्हें लूटपाट का शिकार बनाया था उनका नाम अली एद्रोस नासिर सालेह है। सालेह यमन सेना में बेहद ऊंचे पद पर रह चुके हैं। उसके सिर में गोली लगी थी जिसके इलाज के लिए वे अक्सर मुलुंड के फोर्टिस अस्पताल में आते हैं।

वारदात के दिन इलाज कराने के बाद साहेल पत्नी के साथ टैक्सी से वापस जा रहे थे। तभी आरोपियों ने अपनी कार से टैक्सी को ओवरटेक किया और दंपति को बताया कि वे पुलिस वाले हैं। आरोपियों ने दंपति से कहा कि उन्हें सूचना मिली है कि वे नशे का कारोबार करते हैं। इसके बाद जांच के नाम पर आरोपियों ने दंपति बैग में मौजूद चार हजार अमेरिकी डॉलर निकाले और फरार हो गए। पुलिस ने वारदात में इस्तेमाल कार की तस्वीरें सीसीटीवी से हासिल की और जानकारी जुटाई तो पता चला कि कार एक ऑटोरिक्शा ड्राइवर के नाम पर खरीदी गई थी। पुलिस ने ऑटोरिक्शा चालक से कुछ जानकारी इकठ्ठा की और दोनों आरोपियों को अंधेरी एमआईडीसी इलाके से गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों से 600 अमेरिकी डॉलर बरामद किए गए हैं। कोर्ट में पेशी के बाद दोनों आरोपियों को पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है।