दैनिक भास्कर हिंदी: UP में मंत्री के काफिले ने बच्चे को कुचला, CM ने मांगी रिपोर्ट

October 29th, 2017

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। उत्तरप्रदेश में योगी सरकार में कैबिनेट मिनिस्टर ओमप्रकाश राजभर के काफिले ने शनिवार को एक बच्चे को कुचल दिया, जिससे उस बच्चे की मौके पर ही मौत हो गई। योगी सरकार में कैबिनेट मिनिस्टर ओमप्रकाश राजभर करनैलगंज से परसपुर की ओर जा रहे थे, तभी रास्ते में एक 8 साल बच्चा सड़क किनारे खेल रहा था। उसी बीच मंत्री का काफिला निकला और बच्चे को कुचलते हुए आगे निकल गया। वहीं मामला सामने आने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जांच के आदेश देते हुए पीड़ित परिवार को 5 लाख रुपए की आर्थिक मदद देने की घोषणा की है। वहीं इस दौरान मंत्री की अंसवेदनशीलता भी देखने को मिली।

 

कैसे हुआ ये हादसा? 

 

दरअसल, राज्य सरकार में कैबिनेट मिनिस्टर ओमप्रकाश राजभर शनिवार को अपने काफिले के साथ करनैलगंज से परसपुर की ओर जा रहे थे। तभी गोंडा के पास ये हादसा हुआ। बताया जा रहा है कि पास ही के गोसाईं पुरवा के रहने वाले विश्वनाथ का 8 साल का बेटा शिवा सड़क किनारे खेल रहा था। जब मंत्री का काफिला वहां से निकला तो हूटर की आवाज से बच्चा डर गया और भागने लगा, तभी वो एक गाड़ी की चपेट में आ गया। जिससे उसकी मौत हो गई। बच्चे को कुचलने के बाद भी मंत्री का काफिला नहीं रुका और वहां से चला गया। 

 

Image result for a child dead by convoy in gonda

 

मंत्री की असंवेदनशीलता आई सामने

 

8 साल के शिवा को कुचलने के बाद भी ओमप्रकाश राजभर का काफिला नहीं रुका। मंत्री की असंवेदनशीलता देखकर गांव वाले गुस्से में आ गए और सड़क पर ही बच्चे की लाश को रखकर प्रदर्शन शुरू कर दिया। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने गांव वालों को समझाने की कोशिश की, लेकिन गांव वाले किसी बड़े अधिकारी को मौके पर बुलाने की बात पर अड़े रहे। बताया ये भी जा रहा है कि 1 घंटे तक जाम के बाद पुलिसवाले बच्चे के शव को थाना लेकर आए। 

 

Image result for a child dead by convoy in gonda omprakash rajbhar

 

सीएम योगी ने दिए कार्रवाई के आदेश, 5 लाख की मदद घोषणा

 

वहीं मंत्री ओमप्रकाश राजभर के काफिले से बच्चे की मौत का मामला सामने आने का बाद सीएम योगी ने दुख जताया है। इसके साथ ही मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं। इसके साथ ही सीएम योगी ने बच्चे के परिवार वालों को 5 लाख रुपए की मदद देने की भी घोषणा की है। इसके अलावा सीएम ने डीजीपी से इस पूरे मामले की रिपोर्ट भी मांगी है और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।