दैनिक भास्कर हिंदी: शिवसेना को समर्थन देने के सवाल पर दुविधा में कांग्रेस, क्या फिर इतिहास दोहराएगी महाराष्ट्र की सियासत 

November 5th, 2019

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के बीच सोमवार को हुई मुलाकात के बाद यह संकेत तो मिले कि एनसीपी को शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने में कोई एतराज नही है, लेकिन कांग्रेस शिवसेना को समर्थन देने के मुद्दे पर दुविधा में है। सूत्र बताते हैं कि इस पर विचार करने के लिए कांग्रेस नेतृत्व और समय चाहता है। उच्च स्तरीय सूत्रों का कहना है कि भाजपा को सबक सिखाने के लिए महाराष्ट्र कांग्रेस के नेता भले ही शिवसेना को समर्थन देने की इच्छा व्यक्त कर रहे हो, लेकिन कांग्रेस के राष्ट्रीय स्तर के आला नेता इसको लेकर दुविधा में है। राम मंदिर, धारा 370 जैसे कई मुद्दों पर शिवसेना और कांग्रेस की भूमिका अलग है। ऐसे में शिवसेना को साथ लेकर आगे बढने पर कांग्रेस को इन सवालों का सामना करना पड़ेगा। इन मुद्दों पर विचार करने के लिए कांग्रेस नेतृत्व को और समय चाहिए।