comScore

ड्राय-डे पर शराब बेच रही थी महिला , पुलिस ने किया गिरफ्तार

ड्राय-डे पर शराब बेच रही थी महिला , पुलिस ने किया गिरफ्तार

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  कामठी के नए पुलिस थाना अंतर्गत चितरंजन नगर निवासी एक महिला को घर से अवैध शराब का अड्डा संचालित कर शराब बेचने के मामले में गिरफ्तार किया गया। महिला के पास से 129 शराब की बोतलें बमराद की गईं। पुलिस सूत्रों के मुताबिक नए थाने का डीबी पथक यादव नगर क्षेत्र में पेट्रोलिंग कर रहा था। गुरुवार को गांधी सप्ताह के उपलक्ष्य में शहर में शराबबंदी यानी ड्राय-डे घोषित था।

अधिक मुनाफा कमाना चाहती थी
ड्राय-डे का फायदा उठाकर अधिक मुनाफा कमाने के लिए चितरंजन नगर अब्दुल्लाह शाह दरगाह के समीप रहने वाली वंदना केराम नामक महिला घर से शराब बेच रही है, यह जानकारी पुलिस को मिलने पर पुलिस ने महिला पुलिस सिपाही मनीषा माहुर्ले के साथ जाकर छापा मारा, तो महिला के घर के दरवाजे के पास कपड़े की थैली में करीब 129 देसी शराब की बोतलें विविध ब्रांड की पायी गईं। पुलिस ने शराब जब्त कर महिला को गिरफ्तार कर लिया तथा उसके खिलाफ महाराष्ट्र शराबबंदी की धारा 1959 की सहधारा 65 ई के तहत मामला दर्ज किया है। कार्रवाई पुलिस उप-निरीक्षक विनोद धोंगडे, ज्ञानचंद दुबे, प्रमोद वाघ, वेदप्रकाश यादव, मंगेश गिरि, ललित शेंडे ने की।

गांजा विक्रेता को  एक साल की जेल
नागपुर सत्र न्यायालय ने मादक पदार्थ विक्रेता को 1 साल की जेल और 10 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई है। आरोपी का नाम मोहम्मद मुमताज उर्फ सोनू अंसारी (30) है और वह वनदेवी नगर, मांजरी का निवासी है। घटना 13 जुलाई 2015 की है। यशोधरा पुलिस ने पेट्रोलिंग के दौरान आरोपी को संदिग्ध अवस्था में देखकर उससे पूछताछ की थी। तलाशी में उसके पास से 2 किलो गांजा और वजन मशीन मिली थी। ऐसे में पुलिस ने आरोपी के खिलाफ सीआरपीसी व अन्य के तहत आपराधिक मामला दर्ज किया था। मामले में सभी पक्षों को सुनने के बाद कोर्ट ने उसे दोषी ठहराते हुए सजा सुनाई है। मामले में सरकार की ओर से सरकारी वकील पंकज तपासे ने पक्ष रखा। 

कमेंट करें
z5TCX