दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर-छिंदवाड़ा के बीच ज कन्वर्सन का कार्य अधूरा, फिर भी दिसंबर तक ट्रेन संचालन का लक्ष्य

October 22nd, 2019

 डिजिटल डेस्क, नागपुर। नागपुर से छिंदवाड़ा के बीच गेज कन्वर्सन का कार्य अधूरा है, इसे पूरा करने में समय लगेगा। इस बीच दिसंबर तक ट्रेन चलाने का लक्ष्य रेलवे अधिकारियों को मिलने के बाद अब अधिकारी नवंबर के अंत तक सीआरएस निरीक्षण कराने का दावा कर रहे हैं। छिंदवाड़ा से नागपुर के बीच चल रहे ब्राडगेज कन्वर्सन के काम में अब भी भंडारकुंड से भीमालगोंदी के बीच तकरीबन 20 किमी का काम पूरा नहीं हुआ है। जिसके बाद अधिकारियों का कहना है कि, इस काम के पूरा होने के बाद नवंबर के तीसरे सप्ताह में ही सीआरएस निरीक्षण होगा। 
दूसरी ओर पिछले दिनों मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ की रेलवे अधिकारियों के साथ हुई बैठक में दिसंबर से ट्रेन चलाने का समय निर्धारित किया है। ऐसी स्थिति में अब दिसंबर माह में ट्रेन चलाने का लक्ष्य मानकर इसे पूरा करने की तैयारी हो रही है। दरअसल अब भी भंडारकुंड से भीमालगोंदी तक तकनीकी कारणों से काम धीमी गति से चल रहा है। जिसके कारण दिसंबर अंत तक ही छिंदवाड़ा-नागपुर ब्राडगेज चलने की संभावना बन रही है। 

बड़े पुल पर निर्माण करने में आ रही परेशानी 
भंडारकुंड से भीमालगोंदी तक कुल 20 किलोमीटर का काम होना है। इसी बीच यहां पर बड़े पुल भी है जिसके काम को पूरा करने में परेशानी हो रही है। इतना ही नहीं यहां पर तकरीबन 200 मीटर की ट्रैक लिकिंग, मशीन वेल्डिंग के अलावा छोटे-छोटे काम को फाइनल किया जा रहा है। इस पूरे ट्रैक के निर्माण में इस 20 किलोमीटर के ट्रैक के काम को फाइनल करना है।  उल्लेखनीय है कि इसके पहले पिछले दिनों हुई बारिश के कारण यहां तक निर्माण सामग्री और सिस्टम को पहुंचाने में दिक्कत गई। यहां पर अब भी पहुंच मार्ग खराब होने के कारण काम प्रभावित हो रहा है। निर्माण कार्य के लिए मिले अल्टीमेटम के बाद काम कर रही ठेका कंपनी के पास कर्मचारियों की कमी के कारण अब रेलवे कर्मचारियों से भी यह काम कराया जा रहा है।  इसके बाद पिछले कुछ दिनों से लगातार रेलवे कर्मचारियों को ठेकेदार के हिस्से का भी काम हो रहा है।

खबरें और भी हैं...