comScore

 गणेश प्रतिमा का श्रृंगार करते समय करंट लगने से युवक की मौत

 गणेश प्रतिमा का श्रृंगार करते समय करंट लगने से युवक की मौत

डिजिटल डेस्क, नागपुर। गोंदिया के सिविल लाइन हनुमान चौक के पास चंद्रपुरवाले मूर्ति कारखाने में प्रकाश नागदेव नामक युवक गणेश मूर्ति का श्रृंगार कर रहा था। इस दौरान करंट लगने से उसकी मौत हो गई। सोमवार से गणेश चतुर्थी शुरू हो रही है।  इस दिन से गणेश जी की प्रतिमाएं विराजमान होना शुरू हो जाएंगी। मूर्तिकारों ने गणेश प्रतिमा बनाने के बड़े आर्डर ले रखे हैं। बारिश के चलते मूर्तिकारों ने घरों व पंडालों में मिट्टी के ढेर लगा रखे हैं। पंडालों व कारखानों के अंदर गणेश की प्रतिमाएं अंतिम रूप ले रहे हैं।

प्रकाश नागदेव भी शनिवार की सुबह एक गणेश प्रतिमा का श्रृंगार कर रहे थे। इस दौरान 23 वर्षीय नागदेव के हाथों की अंगुली उस मूर्ति के पीछे विद्युत के खुले तारों से स्पर्श होने पर उसे करंट लग गया। इससे वह बेहोश होकर गिर पडा। उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई। प्रकाश नागदेव गोंदिया की सिंधी कालोनी की नील गली का रहने वाला था। यह गणेशनगर की एक टेक्सटाइल कपड़ा मिल में काम करता था, लेकिन उसे गणेश मूर्ति में रुचि होने के कारण वह इन दिनों गणेश प्रतिमाओं का श्रृंगार करने का काम करता था।

30 अगस्त को वह कपड़ा टेक्सटाइल से घर जा रहा था तब उसे चंद्रपुरवाले मूर्ति कारखाने के मालिक राजेश कोकोडे कटंगी नागरा निवासी ने संदेश भेजा कि वह गणेश मूर्ति के श्रृंगार के कार्य के लिए आ सकता है। बताया जाता है कि 31 अगस्त को वह सुबह मूर्ति कारखाने में पहुंचा। उसने 500 रुपए प्रतिदिन मेहनताना मांगकर काम पर जुट गया। प्रकाश को मूर्ति श्रृंगार करने का हुनर था। इसलिए कारखाने के मालिक ने उसे संदेश देकर बुलाया था। वह गणेश की प्रतिमा का श्रृंगार कर रहा था। इस दौरान उसे करंट लगने पर उसकी मौत हो गई। बताया जाता है कि वह अपनी बूढ़ी मां के साथ किराए के कमरे में रहता था। प्रकाश की मौत के बाद उसकी बूढी मां का इकलौता सहारा भी उससे छीन गया। प्रकाश का शव पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल में भेज दिया गया है।   

कमेंट करें
DSnfs