दैनिक भास्कर हिंदी: पद्मशाली समाज के राज्य स्तरीय परिचय सम्मेलन में 159 युवक-युवतियां हुए रूबरू 

December 17th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। पद्मशाली समाज नागपुर व विदर्भ पद्मशाली संघम के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित युवक-युवती परिचय सम्मेलन में 159 युवक-युवती रूबरू हुए।  कविवर्य सुरेश भट सभागृह में आयोजित परिचय  सम्मेलन  का उद्घाटन महापौर संदीप जोशी प्रमुख ने किया। इस मौके पर नागपुर पद्मशाली समाज के अध्यक्ष राजू नागुलवार, अखिल भारतीय पद्मशाली संघम के अध्यक्ष श्रीधर सुंकुरवार, विदर्भ पद्मशाली संघम के अध्यक्ष संजय बोमेवार  प्रमुखता से उपस्थित थे।  संदीप जोशी ने परिचय सम्मेलन को समय की जरूरत बताया।  समाज को एकजुट करने का प्रयास करने पर राजू नागुलवार को बधाई दी।  उन्होंने स्वच्छता अभियान में हर नागरिक को जुटने का आह्वान किया।   

कार्यक्रम में प्रमुख अतिथि के रूप में उपस्थित विधायक अनिल सोले ने कहा कि  समाज के विकास के लिए समाज के लोगों का एकजुट होना जरूरी है। विवाह समारोह में होने वाली फिजूलखर्ची को रोकने के लिए सादे ढंग से विवाह किया जाना चाहिए  उन्होंने  कहा कि  समाज के युवाओं को उद्योग-व्यापार के अलावा वकील, डाॅक्टर आदि पेशे के अलावा खेल के क्षेत्र में अपना कॅरियर चुनना चाहिए।   युवाओं से शादी-ब्याह में फिजूलखर्ची न करते हुए सामूहिक विवाह का लाभ लेने का आह्वान मान्यवरों ने किया।

सम्मेलन में लगभग 159 युवक-युवतियों ने अपना परिचय दिया। सम्मेलन में महाराष्ट्र के अलावा मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, आंध्रप्रदेश, गुजरात, मराठवाड़ा, पश्चिम महाराष्ट्र, तेलंगाना सहित देश के अनेक भागों से हजारों लोग शामिल हुए।  कार्यक्रम में समाज के लिए उल्लेखनीय योगदान देने वाले मान्यवर व वरिष्ठ सलाहकार कवडूजी इजमुलवार, भाऊराव कुचनवार व रामकृष्ण जिन्नेवार का सत्कार किया हया।   इस अवसर पर  रमेश श्रीपद , रामकृष्ण जिन्नेवार, दीपक बिट्टुरवार, , सुधीर बोद्दुन,  गोपाल परसावार, प्रकाश बल्लेवार, अनिल बल्लेवार, संजय आडेपवार, प्रकाश बिट्टुरवार, भैयाजी कटकमवार, रश्मी परसावार, अनिता पेद्दुलवार,नरेश पम्पनवार प्रमुखता से उपस्थित थे। स्वागत गीत रेणु गाजिमवार, सुनंदा गोशिकवार, डिंपल चिंतले व अलका बुधकोंडवार ने प्रस्तुत किया। 
 
मंच संचालन माही रघुर्ते ने किया। युवक-युवतियों का परिचय सुनीता तुम्मे, भारती राव, प्रिया इजमुलवार, श्रद्धा मामीलवार व प्रा. विजय आकनुरवार ने दिया। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए  चंद्रशेखर झाड़गांवकर, सतीश मामीलवार, तारकेश्वर उड़तेवार, उमाकांत गोशिकवार, नरेश इरमलवार, नीलेश गाजिमवार, सुनील बिंगेवार,साईंनाथ अल्लेवार,  चेतन शुंकलवार, सूरज बोमेवार,बंडू आकनुरवार, मिनाक्षी झाड़गांवकर, राखी नागुलवार, रेणु गाजिमवार, सुनंदा गोशिकवार, शीतल गोपावार, वर्षा नागुलवार, स्नेहलता पुल्लरवार सहित समाज के पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं ने अथक परिश्रम किया।

मंच तक पहुंचे   159  युवक-युवतियां 
पद्मशाली समाज के राज्यस्तरीय परियय सम्मेलन में 159 युवक-युवती रू-ब-रू हुए।  युवक-युवतियों ने मंच पर आकर अपना परिचय दिया और अपने भावी जीवनसाथी के विषय में अपनी अपेक्षा व्यक्त की।  महाराष्ट्र के अलावा छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, गुजरात, तेलंगाना, तमिलनाडु और आंध्रप्रदेश से वर-वधु सम्मेलन में उपस्थित हुए।।

पद्मरेशिमगाठी पुस्तिका का विमोचन
पद्मशाली समाज के विवाह योग्य युवक-युवतियों के परिचययुक्त पुस्तिका पद्मरेशिमगाठी का इस मौके पर विमोचन किया गया। पुस्तिका में पूरे राज्य से 421 युवक-युवतियों की विस्तृत जानकारी दी गई है। जिसमें हर पेशे के युवक-युवती शामिल हैं।

11 रिश्ते भी हुए तय
राज्य स्तरीय परिचय सम्मेलन में दूर-दूर से लोगों ने पहुंचकर उपस्थिति दर्ज कराई। इस मौके पर 11  युवक-युवतियों के रिश्ते भी तय हुए। शीघ्र ही इनके विवाह की तिथि फाइनल करने की तैयारी परिजन कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...