दैनिक भास्कर हिंदी: एंडरसन, ब्रॉड के साथ खेलना किस्मत की बात: रूट

July 29th, 2020

हाईलाइट

  • एंडरसन, ब्रॉड के साथ खेलना सौभाग्य की बात : रूट

डिजिटल डेस्क, मैनचेस्टर, 28 जुलाई (आईएएनएस) तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में वेस्टइंडीज को 2-1 से हराने के बाद इंग्लैंड के कप्तान जोए रूट ने अपने अनुभवी तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड की जमकर तारीफ की है। क्रिस वोक्स (पांच विकेट) और स्टुअर्ड ब्रॉड (चार विकेट) की जोड़ी ने शानदार गेंदबाजी करते हुए यहां ओल्ड ट्रेफर्ड मैदान पर खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में इंग्लैंड को वेस्टइंडीज के खिलाफ 269 रनों से विशाल जीत दिला दी।

इसी के साथ उसने तीन मैचों की टेस्ट सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली। सीरीज का पहला मैच विंडीज ने जीता था और दूसरे मैच को जीत इंग्लैंड ने बराबरी कर ली थी। पहले टेस्ट मैच से बाहर रहने के बावजूद ब्रॉड ने तीसरे टेस्ट में कुल 10 विकेट लिए। उन्होंने पहली पारी में छह विकेट लिए थे। वह 2013 के बाद से पहली बार एक टेस्ट मैच में कुल 10 विकेट लेने में सफल रहे हैं।

इसके अलावा ब्रॉड ने इस मैच में टेस्ट क्रिकेट में अपने 500 विकेट भी पूरे किए और ऐसा करने वाले वह इंग्लैंड के दूसरे और दुनिया के सातवें गेंदबाज हैं। अपने शानदार प्रदर्शन के लिए ब्रॉड को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया।  रूट ने मैच के बाद कहा, ब्रॉड का वापस आना सीरीज के दो मैचों में अपना प्रभाव बनाना, इस बात को साबित करता है कि वह कितने अच्छे खिलाड़ी हैं। पहली पारी में शानदार अर्धशतक और फिर 500 विकेट लेना। उनकी इस अभूतपूर्व उपलब्धि से बहुत खुश हूं।

रूट ने कहा कि ब्रॉड और जेम्स एंडरसन, जो खुद 600 टेस्ट विकेट तक पहुंचने वाले पहले तेज गेंदबाज बनने से 11 विकेट दूर हैं, इंग्लैंड के लिए अब तक के सबसे महान गेंदबाजों में से दो हैं और युवा खिलाड़ी भाग्यशाली हैं कि वे इन दोनों के साथ ड्रेसिंग रूम साझा कर रहे हैं।

कप्तान ने कहा, हम इंग्लैंड सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों को देख रहे हैं और वे दोनों एक ही टीम में खेल रहे हैं। हमें यह समझ में आ गया है कि हम अभी कितने भाग्यशाली हैं कि हम उन्हें अपनी टीम साथ खेलते हुए देखना पसंद कर रहे हैं। ये देखकर अच्छा लगता है कि अनुभवी गेंदबाज अपना अनुभव युवाओं के साथ साझा कर रहे हैं। हम इंग्लैंड के दो महान गेंदबाजों के साथ खेल रहे हैं। ये हमारे लिए सौभाग्य की बात है।