comScore

KKR vs SRH IPL 2020: शुभमन गिल के धमाके से केकेआर की पहली जीत, हैदराबाद को 7 विकेट से हराया


हाईलाइट

  • नहीं चला सुनील नरेन का बल्ला, शुभमन ने दिलाई जीत
  • सीजन में पहली बार टॉस जीतकर बल्लेबाजी चुनी
  • नागरकोटी अपने डेब्यू मैच में विकेट नहीं ले पाए

डिजिटल डेस्क, अबु धाबी। कोलकाता नाइट राइडर्स ने शनिवार को बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों जगह उम्दा प्रदर्शन करते हुए शेख जाएद स्टेडियम में खेले गए मैच में सनराइजर्स हैदराबाद को सात विकेट से हरा इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें संस्करण में अपनी पहली जीत दर्ज की। हैदराबाद के कप्तान डेविड वार्नर ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। कोलकाता ने हैदराबाद को 20 ओवरों में 4 विकेट के नुकसान पर 142 रन ही बनाने दिए। फिर इस लक्ष्य को 18वें ओवर में पूरा भी कर लिया।

नहीं चला सुनील नरेन का बल्ला, शुभमन ने दिलाई जीत
कोलकाता का पहला विकेट दूसरे ओवर में ही गिर गया था। सुनील नरेन बल्लेबाजी में फिर असफल रहे। खलील अहमद ने उन्हें वार्नर के हाथों कैच करा दिया। सुनील खाता भी नहीं खोल पाए। इसके बाद शुभमन गिल (नाबाद 70 रन, 42 गेंद, 5 चौके, 2 छक्के) और नीतीश राणा ने स्कोरबोर्ड को तेजी से चलाया, लेकिन यह जोड़ी ज्यादा दूर नहीं जा सकी। अपना पहला ओवर लेकर आए टी. नटराजन ने राणा (26 रन, 13 गेंद) को आउट कर दिया। 

कप्तान दिनेश कार्तिक भी शून्य पर आउट हुए
दिनेश कार्तिक (0) कप्तानी पारी खेलने में विफल रहे। राशिद खान की गुगली उनके पैड पर लगी जिस पर अंपायर ने उंगली उठा दी। कार्तिक ने रिव्यू तो लिया लेकिन वो उनके फेवर में नहीं गया। कार्तिक के जाने के बाद कोलकाता का स्कोर 52 रनों पर तीन विकेट हो गया और मुश्किलें खड़ी होती दिख रही थीं, लेकिन इयोन मोर्गन (नाबाद 42, 29 गेंद, 3 चौके, 2 छक्के) ने गिल का साथ देते हुए 92 रनों की साझेदारी कर टीम को जीत दिलाई। गिल कोलकाता के जहाज को संभाले हुए थे और उन्होंने इस सीजन का अपना पहला अर्धशतक भी पूरा किया।

गेंदबाजों ने रखी जीत की नीव
बल्लेबाजों से पहले कोलकाता के गेंदबाजों ने शानदार काम किया। पिछले मैच में पैट कमिंस काफी महंगे साबित हुए थे और उनकी आलोचना भी हुई थी। इस मैच में उन्होंने हैदराबाद के बड़े खिलाड़ी जॉनी बेयरस्टो (5) को बोल्ड कर कोलकाता को शुरुआती सफलता दिलाई। बेयरस्टो जिस गेंद पर आउट हुए उससे पहले वाली गेंद पर रिव्यू लेकर बच गए थे, लेकिन अगली ही गेंद कमिंस ने उनके विकेट पर मार दी।

कोलकाता के गेंदबाजों ने हैदराबाद पर बेयरस्टो के जाने के बाद दबाव बना लिया। स्ट्रेटेजिक टाइम आउट तक टीम नौ ओवरों में सिर्फ 59 रन ही बना पाई थी। और ब्रेक के बाद आते ही वरुण च्रकवर्ती ने पहली ही गेंद पर डेविड वार्नर (36 रन, 29 गेंद) को कॉट एंड बोल्ड कर दिया। 10 ओवरों के बाद हैदराबाद का स्कोर दो विकेट पर 60 रन था।

मनीष पांडे का अर्धशतक, लेकिन बड़े स्कोर तक नहीं पहुंचा पाए
टीम के अनुभवी बल्लेबाज मनीष पांडे और इस मैच में टीम में शामिल किए गए रिद्धिमान साहा ने जिम्मेदारी ली और तीसरे विकेट के लिए 62 रन जोड़े। दोनों शुरुआत में आराम से खेले, लेकिन रणनीति के तहत आखिरी के ओवरों में तेजी से रन बनाने में यह दोनों विफल रहे। मनीष को आंद्रे रसेल ने 18वें ओवर में अपनी ही गेंद पर कैच कर आउट किया। साहा भी आखिरी ओवर में पवेलियन लौट गए। मनीष ने 38 गेंदों पर तीन चौके और दो छक्कों की मदद से 51 रन बनाए। साहा ने 31 गेंदों पर 30 रन बनाए।

सीजन में पहली बार टॉस जीतकर बल्लेबाजी चुनी
लीग के इस सीजन में पहली बार किसी कप्तान ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी चुनी। इससे पहले हैदराबाद के कप्तान वॉर्नर ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी की थी, जिसमें बेंगलुरु 10 रन से जीता था।

नागरकोटी अपने डेब्यू मैच में विकेट नहीं ले पाए
राजस्थान के तेज गेंदबाज कमलेश नागरकोटी ने 2018 के अंडर-19 वर्ल्ड कप में तहलका मचाया था। उन्होंने 145 किमी/घंटे से भी ज्यादा तेजी से गेंदबाजी की थी। वेस्टइंडीज के महान तेज गेंदबाज इयान बिशप तक उनके फैन हो गए थे। इसके बाद आईपीएल के लिए केकेआर ने 2018 में उन्हें 3.2 करोड़ रुपए में खरीदा था, लेकिन चोट के कारण वे नहीं खेले। इसके बावजूद केकेआर ने उन्हें रिटेन किया। 2019 सीजन में भी वे बैक इंजरी के कारण बाहर हो गए थे। इस बार उन्होंने अपना डेब्यू किया है। हालांकि मैच में उन्हें विकेट नहीं मिल सका। नागरकोटी ने 2 ओवर में 17 रन दिए।

कमेंट करें
L5lZ4