comScore

NZ VS IND: टेस्ट सीरीज का पहला मैच कल से, दोनों टीमें 3 साल बाद आमने-सामने

NZ VS IND: टेस्ट सीरीज का पहला मैच कल से, दोनों टीमें 3 साल बाद आमने-सामने

हाईलाइट

  • भारत और न्यूजीलैंड के बीच दो मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच कल से वेलिंग्टन में खेला जाएगा
  • पिछली बार भारतीय टीम ने अपने घर में सितंबर 2016 में न्यूजीलैंड को 3-0 से क्लीन स्वीप किया था

डिजिटल डेस्क। भारत और न्यूजीलैंड के बीच दो मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच कल से वेलिंग्टन में खेला जाएगा। दोनों टीमें 3 साल बाद आमने-सामने होंगी। पिछली बार भारतीय टीम ने अपने घर में सितंबर 2016 में न्यूजीलैंड को 3-0 से क्लीन स्वीप किया था। ICC टेस्ट चैम्पियनशिप में पहले स्थान पर काबिज भारतीय टीम की कोशिश जहां खेल के सबसे लंबे प्रारूप में अपने बेहतरीन प्रदर्शन को बरकरार रखने की होगी तो, वहीं मेजबान टीम अपने घर में टेस्ट में नई शुरुआत करना चाहेगी।

न्यूजीलैंड को हाल ही में ऑस्ट्रेलिया ने टेस्ट सीरीज में मात दी थी और अब वह उस सीरीज को पीछे छोड़ अपने घर में विजयी क्रम पर लौटना चाहेगी। भारत ने इस दौरे की शुरुआत में न्यूजीलैंड को टी-20 में 5-0 से करारी शिकस्त दी थी लेकिन कीवी टीम ने वनडे में वापसी करते हुए सीरीज 3-0 से जीती थी। अब दोनों टीमों खेल के लंबे प्रारूप में नई चुनौतियों के साथ उतरेंगी।

भारत के लिए सबसे बड़ी चिंता उसकी सलामी जोड़ी है। रोहित शर्मा के चोटिल होने के बाद से यह सवाल उठ रहा है कि मयंक अग्रवाल के साथ पारी की शुरुआत कौन करेगा। पृथ्वी शॉ और शभुमन गिल के तौर पर दो विकल्प हैं। इन दोनों में से शॉ का न्यूजीलैंड में पदार्पण तय माना जा रहा है। शॉ नियमित सलामी बल्लेबाज हैं और भारत के लिए टेस्ट में पारी की शुरुआत भी कर चुके हैं। मयंक और शॉ को वनडे में भी ओपनिंग की जिम्मेदारी सौंपी गई थी लेकिन दोनों असफल रहे थे। अभ्यास मैच में हालांकि दोनों ने अच्छा किया था जिससे इन दोनों का सलामी जोड़ी के तौर पर उतरना तय सा लग रहा है। 

भारत का मध्य क्रम कप्तान विराट कोहली, अंजिक्य राहणे, चेतेश्वर पुजारा से सजा है। विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी किसके जिम्मे आती है यह भी देखना होगा। ऋषभ पंत सीमित ओवरों में साइडलाइन कर दिए हैं और टेस्ट में रिद्धिमान साहा उन्हें चुनौती दे रहे हैं। कोहली, जहां तक संभव है साहा के साथ ही जाना चाहेंगे।

गेंदबाजी में टीम एक स्पिनर से ज्यादा के साथ नहीं जा सकती और अगर ऐसा होता है तो रवींद्र जडेजा का पलड़ा रविचंद्रन अश्विन पर भारी लग रहा है क्योंकि जडेजा अपनी बल्लेबाजी से निचले क्रम में रन कर सकते हैं। तेज गेंदबाजी में जसप्रीत बुमराह, ईशांत शर्मा और मोहम्मद शमी का खेलना लगभग पक्का है। ईशांत को दिसंबर में रणजी ट्रॉफी मैच में चोट लगी थी और वह ठीक होकर टीम के साथ जुड़ गए हैं।

वहीं किवी टीम की बात की जाए तो वह ट्रेंट बाउल्ट की वापसी से मजबूत होगी जो चोट से ठीक होकर लौटे हैं। हालांकि नील वेग्नर का खेलना तय नहीं लग रहा है। वह अपने पहले बच्चे के जन्म का इंतजार कर रहे हैं। ऐसे में वनडे सीरीज में प्रभावित करने वाले काइल जैमिसन टेस्ट में पदार्पण कर सकते हैं। न्यूजीलैंड के सबसे अनुभवी बल्लेबाज रॉस टेलर का यह 100वां टेस्ट मैच होगा और इसे वह यादगार बनाने की कोशिश करेंगे। वनडे में टेलर का फॉर्म शानदार रहा था और वह टीम की जीत की अहम वजह बने थे। टेस्ट में भी उनके ऊपर बड़ी जिम्मेदारी है। कप्तान केन विलियम्सन उनके साथ बल्लेबाजी का भार साझा करेंगे।

दोनों टीमें:

भारत: विराट कोहली (कप्तान), मयंक अग्रवाल, पृथ्वी शॉ, शुभमन गिल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे (उपकप्तान), हनुमा विहारी, ऋद्धिमान साहा (विकेटकीपर), ऋषभ पंत (विकेटकीपर), रविचंद्रन अश्विन, रविंद्र जडेजा, जसप्रीत बुमराह, उमेश यादव, मोहम्मद शमी, नवदीप सैनी, इशांत शर्मा।

न्यूजीलैंड: केन विलियम्सन (कप्तान), टॉम ब्लेंडल, ट्रेंट बोल्ट, कॉलिन डी ग्रैंडहोम, काइल जैमिसन, हेनरी निकोल्स, रॉस टेलर, टॉम लाथम (विकेटकीपर), डेरेल मिशेल, एजाज पटेल, टिम साउदी, नील वैगनर, बीजे वाटलिंग और मैट हेनरी।

कमेंट करें
am7CP