दैनिक भास्कर हिंदी: क्रिकेट: 9 साल पहले आज ही के दिन टीम इंडिया ने पाकिस्तान को हराकर वनडे वर्ल्डकप के फाइनल में बनाई थी जगह

March 30th, 2020

हाईलाइट

  • आज ही के दिन 9 साल पहले 30 मार्च 2011 में भारत ने वनडे वर्ल्डकप के सेमीफाइनल में पाकिस्तान को 29 रन से हराया था
  • इसके बाद भारतीय टीम ने फाइनल में श्रीलंका को हराकर दूसरी बार विश्व कप का खिताब जीता था

डिजिटल डेस्क। भारतीय क्रिकेट टीम ने आज ही के दिन 9 साल पहले 30 मार्च 2011 में वनडे वर्ल्डकप के सेमीफाइनल में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को मात देकर फाइनल में प्रवेश किया था। इसके बाद ही भारतीय टीम फाइनल में श्रीलंका को हराकर दूसरी बार विश्व विजेता बनी थी। भारत ने मोहाली में पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन आईएस बिंद्रा स्टेडियम में खेले गए सेमीफाइनल मुकाबले में 29 रन से हराकर विश्व कप में पाकिस्तान के खिलाफ अपनी 100 प्रतिशत जीत की दर को बनाए रखा था।

पाकिस्तान के खिलाफ मैच में भारत ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग और सचिन तेंदुलकर ने पहले विकेट के लिए 48 रन जोड़े। दोनों की साझेदारी में सहवाग ने तीसरे ओवर में पाकिस्तान के तेज गेंदबाज उमर गुल पर 21 रन जड़े थे।  हालांकि, पाकिस्तान को आखिरकार पारी के छठे ओवर में सफलता मिली। वहाब रियाज ने 38 रन पर सहवाग को पवेलियन भेजा। इसके बाद तेंदुलकर ने भारत की कमान संभाले रखी और स्कोरबोर्ड को मेजबानों के लिए आगे बढ़ाया। 

तेंदुलकर ने बनाए थे 85 रन
पाकिस्तान ने चार बार तेंदुलकर के कैच छोड़े। जिसका उन्हें खामियाजा भुगतना पड़ा। 37वें ओवर में पाकिस्तान ने आखिरकार मास्टर ब्लास्टर तेंदुलकर को 85 रन पर पवेलियन भेजा। उनका विकेट सईद अजमल ने लिया। इसके बाद आखिरी ओवरों में भारतीय पारी लड़खड़ा गई, लेकिन सुरेश रैना के 36 रनों की मदद से भारत का कुल स्कोर 260 तक पहुंच पाया।

261 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए, पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाजों कामरान अकमल और मोहम्मद हफीज ने पहले विकेट के लिए 44 रन जोड़े। इसके बाद जहीर खान ने 9वें ओवर में भारत को पहली सफलता दिलाई। उन्होंने अकमल को 19 रन पर आउट किया। अकमल के आउट होने के बाद, पाकिस्तान नियमित अंतराल पर विकेट गंवाता रहा और उसे मैच में वापसी करने का मौका नहीं मिला।  

पांच भारतीय गेंदबाजों ने लिए थे 2-2 विकेट
सभी पांच भारतीय गेंदबाजों जहीर खान, आशीष नेहरा, मुनाफ पटेल, हरभजन सिंह, और युवराज सिंह ने 2-2 विकेट लिए और पाकिस्तान को 231 रन पर ऑलआउट कर दिया। इस तरह भारत ने सेमीफाइनल मैच में 29 रनों से जीत दर्ज कर वनडे वर्ल्डकप के फाइनल में प्रवेश किया। इसके बाद महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई वाली भारतीय टीम ने फाइनल में श्रीलंका को मात देकर दूसरी बार वनडे वर्ल्डकप का खिताब जीता था। 

टीम इंडिया ने विश्व कप में पाकिस्तान के खिलाफ अपना विजयी रथ जारी रखा है। बता दें कि भारत ने 2015 और 2019 के 50 ओवर के विश्व कप में भी पाकिस्तान को हराया। वहीं 2014 और 2016 के टी 20 विश्व कप में भी भारत ने कट्टर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को मात दी थी।

खबरें और भी हैं...