दैनिक भास्कर हिंदी: IPL: कुछ खिलाड़ियों के बाद अब दो अंपायरों से टूर्नामेंट से हटने का फैसला लिया, कोरोना की दूसरी लहर बनी वजह

April 29th, 2021

हाईलाइट

  • देश के कोरोना के कहर के चलते कुछ खिलाड़ी आईपीएल छोड़ चुके हैं
  • अब दो अंपायरों से टूर्नामेंट से हटने का फैसला लिया
  • अंपायर नितिन मेनन और ऑस्ट्रेलियाई पॉल रिफ़ेल, व्यक्तिगत कारणों के कारण आईपीएल से हट गए

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। देश के कोरोना के कहर के चलते कुछ खिलाड़ी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) को छोड़ चुके हैं। अब दो अंपायरों से टूर्नामेंट से हटने का फैसला लिया है। ICC के एलीट पैनल ऑफ़ अंपायर्स में शामिल नितिन मेनन और ऑस्ट्रेलियाई पॉल रिफ़ेल, व्यक्तिगत कारणों के कारण आईपीएल से हट गए हैं।

मेनन की मां और पत्नी का कोरोना वायरय का टेस्ट पॉजिटिव आया है जिसके बाद उन्होंने इंदौर के लिए उड़ान भरी। जबकि पूर्व ऑस्ट्रेलियाई सीमर रीफेल ने BCCI को सूचित किया कि उन्हें डर है कि ऑस्ट्रेलियाई सरकार द्वारा भारत से सभी उड़ानों पर प्रतिबंध लगाने के फैसले के कारण वे घर नहीं जा पाएंगे। BCCI ने पहले से ही बैक अप के तौर पर कुछ स्थानीय अंपायरों को रखा था। अब ये अंपायर मेनन और रिफेल की जगह अंपायरिंग करते नजर आएंगे।

हालांकि खिलाड़ियों की चिंताओं को देखते हुए बीसीसीआई ने मंगलवार को कहा था ‘बीसीसीआई यह सुनिश्चित करने के लिए अपनी तरफ से सब कुछ करेगा कि आप अपने गंतव्य तक बिना किसी रुकावट के पहुंचे। बीसीसीआई स्थिति पर करीबी निगरानी रख रहा है तथा टूर्नामेंट समाप्त होने के बाद आपको स्वदेश पहुंचाने के लिए सरकारी अधिकारियों के साथ मिलकर काम कर रहा है।’ बीसीसीआई ने कहा, ‘हम आपको आश्वस्त करते हैं कि बीसीसीआई के लिए तब तक टूर्नामेंट समाप्त नहीं होगा जब तक आप सकुशल अपने घर नहीं पहुंच जाते।’

बता दें कि भारत में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के चलते ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी एंड्रयू टाय,  एडम जैम्पा और केन रिचर्डसन टूर्नामेंट छोड़ चुके हैं। वहीं इंग्लैंड के खिलाड़ी लियाम लिविंगस्टोन भी बायो बबल की थकान का हवाला देते हुए अपने देश वापस लौट गए हैं। जबकि भारत के ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने अपने परिवार के सदस्यों के कोरोना संक्रमित हो जाने के बाद टूर्नामेंट से ब्रेक लिया है।

अश्विन ने सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी दी थी। अश्विन ने ट्वीट किया था, 'मैं इस साल के आईपीएल से ब्रेक ले रहा हूं। मेरा परिवार इस समय कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ रहा है। इस मुश्किल समय में मैं उनके साथ खड़े होकर उनका हौसला बढ़ाना चाहता हूं। यदि भविष्य में हालत बेहतर होते हैं तो मैं मैदान में वापसी के बारे में सोच सकता हूं। धन्यवाद।'

खबरें और भी हैं...