comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

Badaun gang-rape case: मुख्य आरोपी महंत सत्यनारायण गिरफ्तार, 50 हजार रुपये का था इनाम

Badaun gang-rape case: मुख्य आरोपी महंत सत्यनारायण गिरफ्तार, 50 हजार रुपये का था इनाम

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। उत्तर प्रदेश के बदायूं में 50 वर्षीय महिला के साथ हैवानियत के बाद हत्या के मामले में मुख्य आरोपी महंत सत्यनारायण को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वो दो दिन से फरार था। पुलिस ने उस पर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था। 

मुख्य आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एसटीएफ को आदेश दिया था। जिला पुलिस के साथ एसटीएफ को भी मामले की जांच के आदेश दिए गए थे। आरोपियों पर NSA के तहत कार्रवाई करने के आदेश दिए गए थे।

पीड़िता के साथ निर्भया जैसी हैवानियत
गौरतलब है कि उघैती थाना इलाके के एक गांव में उघैती इलाके में रविवार रात 50 वर्षीय महिला अपने गांव के मंदिर में पूजा करने के लिए गई थी। इसके बाद महिला का शव संदिग्थ हालत में मिला था। बताया जा रहा कि यहां एक मंदिर में महिला के साथ गैंगरेप के बाद उसकी हत्या कर दी गई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक महिला के साथ गैंगरेप किया गया था। उसके प्राइवेट पार्ट में रॉड डाली गई, जिससे अंदरूनी पार्ट बुरी तरह प्रभावित हुआ है। इसके अलावा, शरीर पर कई जगह घाव के निशान थे और कई हड्डियों को तोड़ा गया।

मामले में दो आरोपी पहले ही गिरफ्तार हो चुके हैं
मामले में पुलिस ने मंदिर के महंत समेत तीन लोगों पर गैंगरेप के बाद हत्या का केस दर्ज किया था। अब तक दो आरोपियों को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। पुलिस को मुख्य आरोपी महंत सत्यनारायण की तलाश कर रही थी। उसकी तलाश में चार टीमें लगाई गई थीं। वहीं मामले में लापरवाही बरतने के आरोप में उघैती के थाना प्रभारी राघवेंद्र को सस्पेंड कर किया जा चुका है।

परिवार ने पुलिस पर उठाए थे सवाल

जानकारी के मुताबिक महिला रविवार को शाम 6 बजे पूजा के लिए गई थी। जब 2-3 घंटे बाद वापस नहीं लौटी तो परिवार वाले थाने गए, लेकिन उन्हें पुलिस ने रात 11 बजे तक अटेंड नहीं किया। परिवार का कहना है कि आरोपियों ने दरवाजे की कुंडी खटखटा के डेडेबॉडी फेंकी और भाग गए। परिवार का ये भी आरोप है कि पुलिस ने सुबह मामले को देखने की बात कही थी।

आयोग की सदस्य ने महिला पर घर से बाहर जाने का दोष मढ़ दिया
वहीं इस केस के सामने आने के बाद एक बार फिर महिला सुरक्षा की बातें हवा हो गईं। राष्ट्रीय महिला आयोग की एक सदस्य चंद्रमुखी देवी ने पीड़ित महिला पर घर से बाहर अकेले जाने का दोष मढ़ दिया। इस बात से खफा बॉलीवुड की फीमेल एक्ट्रेस लॉबी ने NCW की अध्यक्ष रेखा शर्मा से सफाई मांगी।

कमेंट करें
8WpMD