comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

बच्ची चोरी कर बैंगलुरू के दंपति को बेचने वाले चार आरोपी गिरफ्तार

बच्ची चोरी कर बैंगलुरू के दंपति को बेचने वाले चार आरोपी गिरफ्तार

डिजिटल डेस्क, मुंबई। चार महीने की बच्ची के अपहरण की गुत्थी सुलझाते हुए मुंबई पुलिस ने तीन महिलाओं समेत चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। अगवा की गई बच्ची को बेंगलुरू से बरामद कर उसके अभिभावकों को सौंप दिया गया है। आरोपियों ने एक महिला को बच्ची की फर्जी मां बनाकर एक दंपति को इसे गोंद देने की जानकारी दी थी। मामले में कुछ और आरोपियों पर शिकंजा कस सकता है।

मानखुर्द पुलिस स्टेशन में गुरूवार को बच्ची के माता-पिता ने शिकायत दर्ज कराई थी। बच्ची को रात 12 बजे से 4 बजे के बीच अगवा किया गया था जब उसके माता-पिता सो रहे थे। बच्ची के माता-पिता ने आशंका जताई थी कि शर्मीन और उसके पति सिद्दीक खान का हाथ बच्ची को अगवा करने में हो सकता है।  

शिकायत के आधार पर पुलिस ने दोनों आरोपियों से कड़ाई से पूछताछ की तो उन्होंने बच्ची को एंटाप हिल इलाके में रहने वाली फरजाना शेख नाम की महिला को सौंपने की जानकारी दी। इसके बाद पुलिस शेख तक पहुंची तो उसने बताया कि उसे चेंबूर इलाके में रहने वाली आशा पवार नाम की महिला को बच्ची को सौंप दिया था।

 पुलिस पवार तक पहुंची तो उसने बताया कि बच्ची को उसने माटुंगा में रहने  वाली ज्यूलिया फर्नांडिस नाम की महिला को बेंच दिया है। पुलिस आगे ज्युलिया तक पहुंची तो उसने बताया कि उसने गुजरात में रहने वाली डॉ माया डांबले को बच्ची सौंप दी है। सीनियर इंस्पेक्टर प्रकाश चौगुले ने बताया कि दूसरी आरोपियों ने एक महिला को फर्जी मां बताकर बच्ची को गोंद देने की बात बताई थी।

जिसके बाद उसने बच्ची को डॉक्टर के जरिए दक्षिण भारत में रहने वाले एक निसंतान दंपति को सौंपा था। लेकिन पुलिस के जरिए जब उन्हें जानकारी मिली कि बच्ची चोरी की गई है तो उन्होंने दंपत्ति से संपर्क कर बच्ची को वापस लाकर पुलिस को सौंप दिया। चौगुले ने बताया कि मामले में शर्मिन, सिद्दीक, फरजाना और आशा नाम के आरोपियों को गिरफ्तार कर किया गया है।

कमेंट करें
O9C0e