दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर: मेयर संदीप जोशी पर जानलेवा हमला, सीएम ने कहा - क्राइम ब्रांच करेगी मामले की जांच

December 18th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। नागपुर के महापौर संदीप जोशी पर बीती रात दो बाइक सवार हमलावरों ने फायरिंग कर दी। इसके बाद जोशी के वाहन पर हमले की जांच शहर पुलिस की अपराध शाखा से कराने का आश्वासन मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने दिया है। ठाकरे ने कहा है कि सड़क पर दादागिरी व गुंडागर्दी को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फडणवीस ने इस मामले में आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि शहर का प्रथम नागरिक ही सुरक्षित नहीं हो तो अन्य नागरिक कैसे सुरक्षित रह सकते हैं। मुख्यमंत्री ठाकरे ने कहा कि कानून व्यवस्था से किसी तरह का समझौता नहीं किया जाएगा। महापौर ठाकरे की कार पर बुधवार की पूर्व रात्रि में हमला हुआ था। रात करीब 12.05 बजे वर्धा मार्ग के एक रेस्टारंट के सामने उनकी कार रोककर फायरिंग की गई। कार के पिछले हिस्से में गोली के निशान है। पुलिस ने 3 गोली बरामद की है। शिकायत है कि 4 राउंड फायरिंग की गई। बेलतरोडी पुलिस स्टेशन में महापौर जोशी ने दर्ज करायी है। बाइक सवार बदमाशों ने जोशी पर तीन फायर किए। महापौर अपनी कार से बीती रात कही जा रहे थे, तभी दो बाइक सवारों ने उनपर हमला कर दिया। अज्ञात हमलावर गोलीबारी कर मौके से फरार हो गए। इस जानलेवा हमले में मेयर जोशी बाल-बाल बच गए। 

इस घटना पर मेयर संदीप जोशी ने कहा कि मैं अपने परिवार के साथ बाहर गया था। जब मैं वापस घर लौट रहा था, तब दो बाइक पर आए और मेरी गाड़ी पर तीन बार फायरिंग की। मुझे पहले भी धमकियां मिल चुकी हैं। पुलिस का कहना है कि हमले का संबंध अतिक्रमण से हो सकता है। मेयर संदीप जोशी की कार पर ताबड़तोड़ गोलीबारी से नागपुर की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े होने लगे हैं। ये हमला उस समय हुआ है जब शहर में विधानसभा का शीतकालीन सत्र चल रहा है। 

दी गई थी धमकी

कुछ दिन पहले महापौर संदीप जोशी को किसी अज्ञात व्यक्ति ने कम्प्लेंट बॉक्स में चिट्ठी भेजकर जान से मारने की धमकी दी थी। शहर में अतिक्रमण के खिलाफ हो रही कार्रवाई से गुस्साए व्यक्ति ने यह धमकी दी थी। इसकी पुलिस में भी शिकायत की थी। फिलहाल इस घटना ने नागपुर अधिवेशन के दौरान कानून व्यवस्था मुद्दा फिर गंभीर बना दिया है

शादी की सालगिरह थी 

मंगलवार को महापौर संदीप जोशी की शादी की सालगिरह थी। इस उपलक्ष्य में वे अपने परिवार, करीबी  और दोस्तों के साथ वर्धा रोड स्थित एक होटल में खाना खाने गए थे। इसके बाद वे शहर की ओर लौट रहे थे। लौटते समय उनके परिवार के सदस्य आगे की कार में थे। पीछे में वे अपने दोस्तों के साथ दूसरी कार में लौट रहे थे। वर्धा रोड स्थित रसरंजन रेस्टॉरेंट के पास अंधेरे का फायदा उठाकर बाइक पर आए दो अज्ञात हमलावरों ने अचानक कार के सामने बाइक रोक दी। कार के आगे और पीछे से फायरिंग की और लोग कुछ समझ पाते इसके पहले ही वे फरार हो गए। घटना से महापौर सहित उनके दोस्त और परिजन काफी घबराए हुए हैं। फिलहाल मामले को पिछले दिनों अज्ञात व्यक्ति द्वारा दी गई धमकी से भी जोड़कर देखा जा रहा है। 
 

खबरें और भी हैं...