उड़ीसा: पीएनबी कर्ज धोखाधड़ी मामले में ओडिशा पुलिस ने सीए को दिल्ली से किया गिरफ्तार

July 25th, 2022

डिजिटल डेस्क, भुवनेश्वर। ओडिशा पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) ने पीएनबी बैंक ऋण धोखाधड़ी मामले में कथित संलिप्तता के आरोप में नई दिल्ली के चार्टर्ड अकाउंटेंट नीरज कुमार को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने सोमवार को यह जानकारी दी।

ईओडब्ल्यू अधिकारियों के अनुसार, परेश कुमार दास, सर्कल हेड, पंजाब नेशनल बैंक, भुवनेश्वर ने आरोपी काली प्रसाद मिश्रा, मैसर्स के.पी. समाधान, और अन्य के खिलाफ लिखित शिकायत दर्ज कराई कि आरोपी व्यक्ति ने फर्जी दस्तावेजों का उपयोग करके 24 अक्टूबर 2017 को कार्यशील पूंजी के लिए 2.50 करोड़ रूपये का नकद ऋण (सीसी) ऋण लिया। अभियुक्तों ने कॉलेक्ट्रल प्रतिभूति के रूप में भू-संपत्तियों को भी गिरवी रखा है, लेकिन वे भूमि स्वामियों की जानकारी के बिना किसी और के नाम दर्ज हैं।

जांच के दौरान, पुलिस ने पाया कि नीरज कुमार पीएनबी में वर्ष 2013 से 2016 के दौरान शहीद नगर शाखा भुवनेश्वर में प्रबंधक, क्रेडिट के रूप में कार्यरत थे, साथ ही एक अन्य आरोपी बीरेंद्र कुमार पटनायक, जो उसी शाखा में मुख्य प्रबंधक के रूप में कार्यरत थे। भले ही नीरज ने 2016 के दौरान पीएनबी से इस्तीफा दे दिया, लेकिन वह बैंक अधिकारी के रूप में बापूजी नगर शाखा में बैठते थे और सक्रिय रूप से करोड़ों के ऋण की सुविधा और व्यवस्था में लगे हुए थे। उन्होंने एक अन्य आरोपी प्रकाश कुमार बेहरा (अभी भी न्यायिक हिरासत में) और अन्य बैंक अधिकारियों के साथ जाली दस्तावेजों और प्रतिरूपण के आधार पर ऋण की मंजूरी की सुविधा प्रदान की।

ईओडब्ल्यू ने यह भी पाया कि ऋण की मंजूरी के दिन और उसके बाद, काली प्रसाद मिश्रा के कंपनी खाते से नीरज कुमार और सहयोगियों के बैंक खातों में लाखों रुपये स्थानांतरित किए गए थे। इससे पहले, आरोपी व्यक्ति काली प्रसाद मिश्रा, श्रीकांत प्रसाद प्रुस्टी, तत्कालीन वरिष्ठ प्रबंधक (क्रेडिट), बीरेंद्र कुमार पटनायक, पूर्व मुख्य प्रबंधक, नरेंद्र नायक, तत्कालीन प्रबंधक, और एक व्यवसायी प्रकाश कुमार बेहरा को इस मामले में गिरफ्तार किया गया था।

(आईएएनएस)

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

खबरें और भी हैं...