comScore

Pathankot:सुरेश रैना की बुआ के परिवार पर हमला और लूटपाट, फूफा की मौत, बुआ की हालत गंभीर

Pathankot:सुरेश रैना की बुआ के परिवार पर हमला और लूटपाट, फूफा की मौत, बुआ की हालत गंभीर

डिजिटल डेस्क, चंडीगढ़। पठानकोट के गांव थरियाल में 19-20 अगस्त की रात जिस सरकारी ठेकेदार की हत्या कर लूटपाट की गई थी, वह क्रिकेटर सुरेश रैना के फूफा थे। हमले में रैना की बुआ और फुफेरे भाई की हालत गंभीर बनी हुई है। वहीं एक फुफेरा भाई और फूफा की मां घर लौट चुके हैं। जब इस घटना के बारे में आईपीएल खेलने दुबई गए सुरेश रैना को पता चला तो वह खिलाड़ियो की लिस्ट से अपना कटवाकर भारत लौट आए। हालांकि इस बारे में आधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं हो पा रही है। दूसरी ओर इस घटना को अंजाम देने के आरोपियों के सुराग को लेकर पुलिस के हाथ अभी तक खाली हैं।

मिली जानकारी के अनुसार बीती 19 अगस्त की रात को पठानकोट जिले के गांव थरियाल में अज्ञात बदमाशों ने ठेकेदार अशोक के सोए हुए परिवार पर धारदार हथियारों से हमला कर दिया। चीख-पुकार सुनकर मौके पर पहुंचे आसपास के लोगों ने घायलों को अस्पताल पहुंचाने की कोशिश शुरू की तो परिवार के मुखिया अशोक कुमार की मौत हो गई थी, जबकि आशा रानी (55), मां सत्या देवी (80) और उसके दोनों बेटे कौशल कुमार (32), अपिन कुमार (28) घर में लहूलूहान में बेहोशी की हालत में पड़े मिले। 

वारदात के 10 दिन बाद भी पुलिस के हाथ खाली
एक प्राइवेट अस्पताल में उपचाराधीन इन लोगों में से आशा रानी की हालत अभी गंभीर बताई जा रही है। पुलिस ने जांच-पड़ताल शुरू की तो घर का सामान बिखरा मिला था। लूटपाट की इस घटना के 10 दिन बाद भी जहां पुलिस के हाथ खाली हैं, वहीं अब इसका कनेक्शन क्रिकेट सुरेश रैना के साथ निकल आने के चलते पुलिस की मशक्कत और बढ़ गई है।

वारदात के पीछे काला कच्छा गिरोह का हाथ
एडीजीपी लॉ एंड ऑर्डर ने इस मामले के पीछे ‘काला कच्छा गिरोह’ होने की बात कही थी। वहीं, पीड़ित परिवार के साथ स्टार क्रिकेटर के संबंध उजागर होने के बाद पुलिस पर जांच का दबाव बढ़ गया है। वहीं शनिवार को ही सुरेश रैना आईपीएल टूर छोड़कर भारत लौट आए हैं। इसके पीछे की वजह भी यही वारदात बताई जा रही है।

आईपीएल छोड़कर भारत लौटे रैना
वहीं जानकारी मिली है कि सुरेश रैना आईपीएल टूर छोड़कर भारत लौट आए हैं। इसके पीछे की वजह यही वारदात बताई जा रही है। वह पूरे सीजन के लिए टीम से बाहर हो गए हैं। चेन्नई सुपर किंग्स इस समय में सुरेश और उनके परिवार को पूरा समर्थन दे रही है। रैना का आईपीएल में नहीं खेलना चेन्नई सुपर किंग्स के लिए बहुत बड़ा झटका है।

19 की आधी रात रात को हुआ था हमला
19-20 अगस्त की रात करीब ढाई बजे गांव थरियाल में लुटेरे सरकारी ठेकेदार अशोक कुमार के मकान के पीछे खेतों में सीढ़ी लगाकर छत पर चढ़े और रैना के फूफा अशोक कुमार, उनके दोनों बेटों कौशल और अपन पर हमला कर दिया। पुलिस के मुताबिक हमलावरों ने बेसबॉल बैट और रॉड से हमला किया। उनको बेहोशी की हालत में छोड़ लुटेरे सीढ़ियों से नीचे मकान में उतरे और अंदर लेटी रैना की बुआ आशा देवी और उसकी सास सत्या देवी पर भी हमला कर दिया। उसके बाद लुटेरों ने घर के अंदर रखे कैश, जेवरों व अन्य सामान पर हाथ साफ किया और उसी रास्ते लौट गए। सुबह दूध देने आए व्यक्ति को कराहने की आवाज आई तो लोगों को इकट्ठा कर दरवाजा तोड़ा गया। तब तक अशोक कुमार की मौत हो चुकी थी।

मामले की जांच कर रही एसआईटी का नेतृत्व कर रहे एसपी (डी) प्रभजोत सिंह विर्क ने कहा कि पहले उन्हें पीड़ित परिवार के क्रिकेटर सुरेश रैना के साथ संबंध का पता नहीं था। अब पता चला है। पुलिस के लिए हर व्यक्ति खास है। पुलिस पहले भी गंभीरता से मामला सुलझाने में लगी थी। अज्ञात लोगों पर कत्ल समेत अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया जा चुका है।
 

कमेंट करें
N4obm