दैनिक भास्कर हिंदी: ज्यादतियां बर्दाश्त नहीं हुई तो पति की पीट-पीट कर हत्या

May 10th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। पति की ज्यादतियों और शक करने की आदत से तंग आकर एक महिला ने लाठियों और ईंट से हमला कर हत्या कर दी।  घटना कोतवाली थानांतर्गत झंडा चौक परिसर की है।  इस मामले में महिला के दोनों बेटों के शामिल होने की संभावना पुलिस ने व्यक्त की है। पुलिस ने महिला आरोपी को हिरासत में लिया है। मृतक का नाम रवींद्र उर्फ राजू अडुलकर (53) हिंगना निवासी है। आरोपी महिला का नाम रविना उर्फ उषा रवींद्र अडुलकर (48) महल, झंडा चौक निवासी है। उषा ने पुलिस को बताया कि उसका पति रवींद्र किसी दूसरी महिला के साथ हिंगना में रहता था, पर उसके चरित्र पर शक करता था। 

किराया लेने आया था पति, हुई बहस और दे मारी लाठी
पुलिस सूत्रों के अनुसार, महल झंडा चौक निवासी उषा अडुलकर ने अपने दोनों बेटों की मदद से पति रवींद्र अडुलकर की हत्या कर दी।  घटनास्थल पर पहुंची कोतवाली पुलिस ने उषा को हिरासत में लिया है। रवींद्र गुरुवार को दुकानों का किराया लेने आया था। वह इस किराए की बदौलत हिंगना में जिंदगी बिता रहा था।  उषा को यह बात पता चली, तो उसने दुकानों के सामने पहुंचकर उससे विवाद किया। विवाद बढ़ने पर उषा ने बेटों के साथ मिलकर रवींद्र पर लाठियों और ईंटों से हमला कर उसे मौत के घाट उतार दिया। जानकारी मिलते ही कोतवाली के वरिष्ठ थानेदार ज्ञानेश्वर भोसले, महिला उपनिरीक्षक तरोड़े  सहयोगियों के साथ पहुंचे। शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए शासकीय अस्पताल भेजा। कोतवाली पुलिस ने हत्या का प्रकरण दर्ज कर लिया है। क्षेत्र के उपायुक्त राहुल माकणीकर ने बताया कि आरोपी उषा को हिरासत में लिया गया है।  

दो साल से अलग-अलग रहते थे दोनों
कोतवाली के वरिष्ठ थानेदार ज्ञानेश्वर भोसले ने बताया कि करीब दो साल से पति-पत्नी अलग रहते थे। उसे शक करने की आदत थी, जिसके चलते परिवार बिखर गया था। इन दोनों का पारिवारिक न्यायालय में मामला विचाराधीन है। रवींद्र का महल में मकान है। इसी मकान में उषा अपने बड़े बेटे अक्षय अडुलकर और छोटे बेटे अभिषेक अडुलकर (21) के साथ रहती है। रवींद्र की 5-6 दुकानें हैं। उसने किराए से इन दुकानों को दे रखा था। पुलिस द्वारा संभावना व्यक्त की जा रही है कि गुरुवार को वह दुकान का किराया लेेने आया होगा। मौका पाकर उषा ने उसकी हत्या कर दी। रवींद्र की हत्या में उसके बेटों के शामिल होने की शंका पुलिस ने जताई है। पुलिस का कहना है कि रवींद्र  के दोनों बेटों की भूमिका की जांच हो रही है। 

कैमरे खोलेंगे राज
सूत्रों के अनुसार, हत्या की इस वारदात को कई लोगों ने देखा है। पुलिस आस-पास के क्षेत्र में लगे सीसीटीवी कैमरे की भी मदद ले रही है। घटना में बस्ती के किसी और व्यक्ति का हाथ तो नहीं, इसकी भी जांच पुलिस कर रही है।