मूसेवाला मर्डर : मुठभेड़ में मारे जाने से पहले दो शूटरों ने गोल्डी बराड़ से की थी बात

July 25th, 2022

हाईलाइट

  • सिद्धू को महिंद्रा थार एसयूवी की ड्राइविंग सीट पर खून से लथपथ पाया गया

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला के दो हमलावर, जिन्हें हाल ही में भारत-पाकिस्तान सीमा के पास एक सुनसान घर में पंजाब पुलिस ने मार गिराया, उन्होंने आखिरी बार कनाडा के गैंगस्टर गोल्डी बराड़ से मुठभेड़ के दौरान संपर्क किया था। यह बिश्नोई गिरोह का सदस्य बराड़ ही था जिसने सबसे पहले मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी ली थी।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक फेसबुक पोस्ट में, गैंगस्टर बराड़ ने मारे गए दोनों शूटरों जगरूप रूपा और मनप्रीत मन्नू को घातक शेर कहा, जिन्होंने छह घंटे से अधिक समय तक पुलिस बल के साथ बहादुरी से लड़ाई लड़ी। बराड़ ने पंजाबी में लिखा, मुठभेड़ के दौरान, जगरूप रूपा ने फोन किया और मुझे बताया कि पुलिस ने उन्हें चारों तरफ से घेर लिया है। मैंने उन्हें आत्मसमर्पण करने के लिए कहा और उन्हें आश्वासन दिया कि मैं तुम्हें मुक्त करवा दूंगा, लेकिन उन्होंने कहा कि वे मुझे अपना अंतिम प्रदर्शन दिखाना चाहते हैं।

उन्होंने आगे लिखा कि जो लोग कहते हैं कि सिद्धू मूसेवाला को छह लोगों ने मार डाला, उनसे मैं कहूंगा, सिद्धू मूसेवाला को 6 लोगों ने ही मारा। और हमारे दो लोगों के खिलाफ एक हजार पुलिस वाले लगे हुए थे। माना जाता है कि शार्पशूटर मनप्रीत मनु और जगदीप रूपा, जग्गू भगवानपुरिया गिरोह के सदस्य थे, जिन्होंने मूसेवाला की हत्या के लिए बिश्नोई को कथित तौर पर शार्पशूटर दिए थे। वह 21 जुलाई को अमृतसर जिले में भारत-पाकिस्तान सीमा के पास पंजाब पुलिस के साथ एक मुठभेड़ में मारे गए।

बराड़ ने एक सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए आगे कहा कि वह दोनों मृतक शार्पशूटरों के परिवारों की मदद करेंगे। उसने लिखा, उन्होंने मेरे लिए बहुत कुछ किया है और मैं उनकी मदद के लिए हमेशा तैयार रहूंगा। वर्तमान समय के सबसे प्रसिद्ध पंजाबी भाषा के गायकों में से एक 28 वर्षीय मूसेवाला की 29 मई को पंजाब के मनसा जिले के जवाहरके गांव के पास छह हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी।

सिद्धू को महिंद्रा थार एसयूवी की ड्राइविंग सीट पर खून से लथपथ पाया गया, जबकि कार में सवार दो और लोग, सिद्धू के दोस्त, गुरविंदर सिंह और गुरप्रीत सिंह को भी गोली लगी, लेकिन वे बच गए। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने छह शूटरों में से तीन- प्रियव्रत, कशिश और अंकित उर्फ छोटा को गिरफ्तार किया है, जबकि पंजाब पुलिस ने दो - मनप्रीत मनु और जगदीप रूपा को मार गिराया है। एक शार्पशूटर अभी भी फरार है और स्पेशल सेल के सूत्रों का कहना है कि उसे पकड़ने के लिए कड़े प्रयास किए जा रहे हैं।

 

 (आईएएनएस)

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.