दैनिक भास्कर हिंदी: CBSE 12th Board: परीक्षा के आयोजन पर दिल्ली को छोड़ सभी राज्य सहमत, मनीष सिसोदिया ने कहा- सुरक्षा फिर परीक्षा   

May 24th, 2021

डिजिटल डेस्क,दिल्ली। कोरोना महामारी की दूसरी लहर देश के लिए काफी खतरनाक साबित हुई, जिसने सबसे ज्यादा युवाओं को प्रभावित किया। वहीं हेल्थ एक्टपर्ट लगातार कोरोना की तीसरी लहर आने का दावा कर रहे है, जो सबसे ज्यादा बच्चों को प्रभावित करने वाली है। कोविड-19 के प्रभाव को कम करने का एकमात्र तरीका वैक्सीनेशन हैं और वैक्सीन लगाने की प्रक्रिया भी बहुत तेजी से नहीं की जा रही है, लेकिन 18 और 45 साल के ऊपर वालों को वैक्सीनेट किया जा रहा है। अब बात आती हैं कि, 18 से नीचे के बच्चें, जिन्हें वैक्सीन नहीं लग रही हैं। ये सभी स्कूल के स्टूडेंट्स है। 

कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए कई राज्य सरकारों ने परीक्षाएं रद्द कर दी। पिछले दिनों सीबीएसई ने भी 10वीं कक्षा की परीक्षा रद्द कर दी थी, जबकि 12वीं की स्थगित की गई थी लेकिन स्टूडेंट्स और अभिभावक पिछले काफी समय से 12वीं की परीक्षा भी रद्द किए जाने की मांग कर रहे हैं,जिसके बाद रविवार को सीबीएसई की 12वीं की परीक्षा और कई प्रतियोगी परीक्षाओं को लेकर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में एक उच्चस्तरीय बैठक हुई और इस बैठक में राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली को छोड़कर ज्यादातर राज्यों ने 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं आयोजित कराने का सुझाव दिया है। वहीं दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा कि, पहले वैक्सीन,सुरक्षा फिर परीक्षा।

क्या कहा गया बैठक में 

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में हुई उच्चस्तरीय बैठक के दौरान केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी, सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर सहित कई राज्यों के मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री, शिक्षा मंत्री व राज्यों कि शिक्षा सचिव, सीबीएसई, नेशनल टेस्टिंग एजेंसी के अलावा केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी भी शामिल हुए। काफी गहन चर्चा के बाद सभी राज्यों ने कई सुझाव केंद्र सरकार के सामने रखे। तो वहीं केंद्र सरकार ने कहा है कि, 12वीं की परीक्षाओं के लेकर 1 जून या उससे पहले ही कोई फैसला लिया जाएगा और तिथि भी घोषित की जाएगी। 

बैठक सभी लोगों की मौजूदगी में पूरे 3 घंटे चली, जिसमें दिल्ली को छो़ड़कर देश के ज्यादातर राज्य 12वीं की परीक्षा के आयोजन को लेकर सहमत नजर आए। केंद्रीय मंत्रिमंडल समूह और सीबीएसई भी छात्रों के भविष्य को देखते हुए सीमित और महत्वपूर्ण विषयों की परीक्षा आयोजित कराये जाने को तैयार दिखा। वहीं दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा कि, केंद्र सरकार के साथ मीटिंग में आज माँग रखी कि परीक्षा से पहले 12वीं के सभी बच्चों के लिए वैक्सीन की व्यवस्था करें। बच्चों की सुरक्षा से खिलवाड़ कर परीक्षा का आयोजन करवाने की ज़िद बहुत बड़ी गलती और नासमझी साबित होगी। 
#पहले_वैक्सीन_सुरक्षा____फिर_परीक्षा।

बैठक पूरी होने के बाद रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि,"सरकार की प्राथमिकता सभी परीक्षाओं को सुरक्षित माहौल में आयोजित करना है।" बता दें कि, केंद्र सरकार ने आदेश दिया हैं कि, सभी राज्यों 25 मई यानि की अगले दो हफ्ते में अपनी राय लिखित में दें, जिसके बाद शिक्षा मंत्रालय समीक्षा करेगा और 1 जून को परीक्षा को लेकर अंतिम फैसला लिया जाएगा।