आईआईएमसी एलुमिनाई मीट: आईआईएमसी के विद्यार्थियों के बिना अधूरी है भारतीय पत्रकारिता : प्रो द्विवेदी

March 1st, 2022

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारतीय जन संचार संस्थान (आईआईएमसी) के महानिदेशक प्रो संजय द्विवेदी ने कहा है कि भारतीय पत्रकारिता का इतिहास आईआईएमसी के विद्यार्थियों के बिना अधूरा है। अपनी प्रतिभा से आईआईएमसी के विद्यार्थियों ने पूरे विश्व में संस्थान का नाम रोशन किया है। 

प्रो द्विवेदी ने यह बात यहां ‘आईआईएमसी एलुमिनाई मीट’ के दौरान पूर्व विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कही। उन्होने कहा कि आम तौर पर लोग बड़े पदों पर पहुंचते हैं, तो अपनी जड़ों को भूल जाते हैं, लेकिन आईआईएमसी के पूर्व विद्यार्थियो का कैंपस से लगाव हम सभी को अपनी स्मृतियों से जुड़े रहने की प्रेरणा देता है।

उन्होने कहा कि किसी भी शैक्षणिक संस्थान के दो ही आधार होते हैं, एक शिक्षक और दूसरे विद्यार्थी। कोई भी संस्थान बड़े भवनों से नहीं, बल्कि उसके विद्यार्थियों से बड़ा बनता है। इस दौरान देश के वरिष्ठ पत्रकार मधुकर उपाध्याय, चित्रा सुब्रह्मण्यम, पद्मश्री से अलंकृत मशहूर नृत्यांगना गीता चंद्रन, एपको वर्ल्डवाइल्ड के प्रबंध निदेशक राहुल शर्मा एवं सैमसंग साउथ वेस्ट एशिया में कॉरपोरेट कम्युनिकेशन के हेड पार्थो घोष को ‘लाइफटाइम एचीवमेंट अवार्ड’ से सम्मानित किया गया। वरिष्ठ पत्रकार सौरभ द्विवदी को ‘एलुमिनाई ऑफ द ईयर’का अवॉर्ड दिया गया।