दैनिक भास्कर हिंदी: पिता बनना सबसे अनोखा अनुभव : तरुण खन्ना

June 21st, 2020

हाईलाइट

  • पिता बनना सबसे अनोखा अनुभव : तरुण खन्ना

मुंबई, 21 जून (आईएएनएस)। अभिनेता तरुण खन्ना का कहना है कि एक आदमी के लिए पिता बनने का अनुभव सबसे अनोखा है। उनके लिए यह एक बहुत बड़ी खुशी है।

तरुण कहते हैं, मेरे ख्याल से कोई पिता तब बनता है, जब एक लड़के से आदमी बनने तक का यह सफर पूरा हो जाता है। यह किसी भी आदमी के लिए एक अनोखा अनुभव है। यह एक बहुत बड़ी खुशी है। उसे एक प्रदाता, रक्षक, दोस्त, मार्गदर्शक, अध्यापक जैसी कई सारी भूमिकाएं निभानी पड़ती है।

अपने बेटे अदम्य के बारे में वह कहते हैं, वह मेरी जिंदगी की सबसे कीमती चीज है और उसके बिना मैं अपने जीवन की कल्पना नहीं कर सकता हूं। जब किसी दृश्य के लिए मुझे खुश दिखना पड़ता है, तो मैं उसके मुस्कुराते हुए चेहरे को याद कर लेता हूं और जब मुझे किसी दृश्य के लिए रोना होता है, तो उसके मुरझाए हुए चेहरे या उसे खोने के एहसास भर से ही चंद सेकेंड्स के अंदर मेरी आंखों में आंसू आ जाते हैं, तो मैं कह सकता हूं कि वह मेरे करियर के क्षेत्र में भी मेरी मदद कर रहा है।

तरुण फिलहाल दंगल टीवी पर प्रसारित होने वाले कार्यक्रम देवी आदि पराशक्ति में महादेव का किरदार निभा रहे हैं।