दैनिक भास्कर हिंदी: मैं अव्यवस्था, प्रतिस्पर्धा और संकट के बीच बड़ा हुआ हूं: रफ्तार

July 22nd, 2020

हाईलाइट

  • मैं अव्यवस्था, प्रतिस्पर्धा और संकट के बीच बड़ा हुआ हूं: रफ्तार

नई दिल्ली, 22 जुलाई (आईएएनएस) लोकप्रिय रैपर रफ्तार का कहना है कि वह अव्यवस्था, प्रतिस्पर्धा और संकट के बीच बढ़े हुए हैं।

यह पूछे जाने पर कि क्या महामारी ने उन्हें अपने जीवन को लेकर पुनर्मूल्यांकन करने पर मजबूर किया है, इस पर रफ्तार ने आईएएनएस से कहा, आप देख सकते हैं कि मैं हमेशा अपनी सफलता और संघर्ष के बारे में विनम्र रहा हूं। मैं अव्यवस्था, प्रतिस्पर्धा और संकट के बीच बड़ा हुआ हूं, इसलिए आज जब हमें अवसर को महामारी के रूप में प्रस्तुत किया गया है, तो मैंने स्थिति के अनुकूल होना सीखा है और सभी नकारात्मकता में सकारात्मकता को जानना सीखा है।

उन्होंने आगे कहा, लेकिन हां, यह हर इंसान के लिए एक बड़ा मौका है कि वह हमारे लिए क्या सही है और क्या नहीं, इसका पुनर्मूल्यांकन करें। हमें यह वक्त फिर कभी नहीं मिलेंगा और इस मौन और शून्य में हम सभी जवाब खोज लेंगे। वर्तमान में मैं संतुलन की कला सीख रहा हूं, ताकि स्वयं और दूसरों के बीच, परिवार और दोस्तों के बीच, काम और घर के बीच संतुलन बना सकूं।