दैनिक भास्कर हिंदी: B Day Spl: डांसिंग से कॉमेडी किंग तक जानिए राजा बाबू की लाइफ से जुड़े रोचक सीक्रेट्स

September 25th, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। बॉलीवुड में डांसिग के बल पर कदम रखने वाले अभिनेता गोविंदा का आज जन्मदिन है। गोविंदा आज 54 साल के हो गए हैं। 21 दिसंबर को 1963 में एक पंजाबी परिवार में जन्म लेने वाले इस एक्टर के पिता अरुण कुमार आहूजा भी एक एक्टर थे। मां निर्मला देवी एक्ट्रेस भी थीं और सिंगर भी। गोविंदा के 5 और बड़े भाई बहन हैं। घर में उन्हें सब प्यार से चीची कहकर बुलाते हैं। गोविंदा के नाम बॉलीवुड में एक वर्ष में सबसे अधिक फिल्‍म देने का रिकार्ड दर्ज है। इनके पास बॉलीवुड के हर विभाग में नं-1 का तमगा हासिल है। गोविंदा एक्टिंग, डांसिग से लेकर हर फिल्मी कला में माहिर है। गोविंदा बॉलीवुड के ऐसे अभिनेताओं में शामिल है, जिनकी स्माइल सबसे जुदा है। गोविंदा का असली नाम गोविंद अरूण राम आहूजा है।

गोविंदा को बॉलीवुड के सबसे फास्ट डायलॉग बोलने वाले अभिनेताओं में जाना जाता है। गोविंदा अपनी कई फिल्मों में नॉनस्टाप डायलॉग बोल चुके हैं। वह लंबे से लंबे संवाद बड़ी आसानी से बोल जाते हैं। उनकी कुछ फिल्मों के संवाद हम यहां आपको दिखा रहे हैं जिनमें गोविंदा ने जबरदस्त संवाद अदायगी की है। यह फिल्में हैं...स्वर्ग, परदेशी बाबू, आंटी नं 1 और भी कई फिल्में ऐसी हैं जिनमें गोविंदा ने नॉनस्टाप डायलॉग बोला है। 

आंटी नं 1

परदेशी बाबू

फिल्म 'स्वर्ग'

फिल्म 'नसीब'

गविंदा के बर्थडे पर उनकी ज़िन्दगी के जुड़ी कुछ ख़ास बातें....


1. गोविंदा ने 36 घंटे में 14 फिल्में साइन करने का रिकॉर्ड भी बनाया है।  

2-कॉमेडी और फेसियल एक्सप्रेशन के मामले में गोविंदा का कोई सानी नहीं है।   

3- गोविंदा ने एक पूरी जनरेशन को ही डांस करना सिखाया है, उनके जैसी डांसिंग स्किल किसी हीरो में नहीं है। 

4-साल 1986 में गोविंदा की पॉपुलारिटी इतनी ज्यादा थी कि एक ही साल में उन्होंने 40 फिल्में साइन की थीं। 

5-गोविंदा को चैरिटी के लिए 2011 में इंटरनेशनल मदर टेरेसा अवॉर्ड भी दिया गया था। 

6-कॉमर्स ग्रेजुएट होने के बाद भी गोविंदा का फिल्मों की ओर लगाव था, फिल्म डिस्को डांसर से उन्होंने अपने करियर की शुरुआत की। इसके बाद फिल्म हत्या में उन्हें लीड रोल मिला।

7-गोविंदा को हीरो नंबर-1 कहा जाता है, उनकी ड्रेसिंग स्टाइल को आज तक लोग कॉपी करते हैं। 

8- 1986 में गोविंदा की पहली फिल्म 'इल्जाम' रिलीज हुई थी, ये फिल्म उस साल की पांचवीं सबसे बड़ी हिट थी। इस फिल्म में गोविंदा ने स्ट्रीट डांसर की भूमिका निभाई थी।  

9-गोविंदा के बारे में बहुत कम लोगों को पता है कि जब वे पैदा हुए थे तो उनके पिता अरुण आहूजा ने उन्हें गोद तक में लेने से मना कर दिया था।

10-गोविंदा ने अपने करियर में ऊंचाई छूने वाली तीन बड़ी फिल्मों को ठुकरा दिया था, जिनमें से गदर, ताल, देवदास फिल्में थीं।

11-गोविंदा अपनी मां से बहुत प्यार करते थे, उनकी मां नजीम मुसलमान थीं। जिन्होंने धर्म परिवर्तन करने के बाद अपना नाम निर्मला देवी रख लिया था। 

12- गोविंदा के अंदर डांसिंग का जज्बा अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती से आया, गोविंदा अपने डांसिंग के रिकॉर्डिंग कैसेट्स फिल्ममेकर्स को बेचते थे। घर से पैसा नहीं लेना चाहते थे जिसके लिए उन्होंने कई जगह नौकरी की। होटल ताज में भी गोविंदा ने एक बार अप्लाई किया, लेकिन अंग्रजी कमजोर होने के कारण उन्हें वहां नौकरी नहीं मिली थी।

13- तीन साल पहले ही गोविंदा ने पश्चिमी दिल्ली के रजौरी गार्डन इलाके में अपना एक रेस्टोरेंट खोला है। जहां किसी भी वर्कर से इंग्लिश बोलने के नाम पर भेदभाव नहीं होता है। गोविंदा ने अपने इस रेस्टोरेंट का नाम अपनी सुपरहिट फिल्म ‘हीरो नंबर 1’ के नाम पर रखा है।

 

गोविंदा के साथ नीलम का रहा लंबा अफेयर

गोविंदा की जोड़ी दर्शकों को नीलम के साथ खूब पसंद आई थी। काफी समय तक नीलम और गोविंदा के अफेयर की भी खूब खबरें भी चर्चा में रहीं। उन दिनों गोविंदा की मां और पत्नी सुनीता यह नहीं चाहती थी कि गोविंदा नीलम के साथ किसी फिल्म में काम करें, लेकिन गोविंदा एक के बाद एक नीलम के साथ ही फिल्में कर रहे थे। दोनों ने करीब 10 से ज्यादा फिल्मों में साथ में काम किया है। कुछ समय बाद परिवार और मां की खातिर गोविंदा ने नीलम के साथ फिल्में करनी छोड़ दी, जिससे नीलम के फिल्मी करियर पर भी असर पड़ने लगा। एक इंटरव्यू में गोविंदा ने खुद इस बात को कबूला कि उन्होंने एक मंदिर में नीलम के साथ चोरी छि‍पे शादी रचाई थी।

गोविंदा और रवीना की जोड़ी को भी फिल्मों में काफी पसंद किया जाता है। दोनों ने एक साथ दूल्हे राजा, परदेशी बाबू, बड़े मियां छोटे मियां, आखियों से गोली मारे, आंटी नं 1 जैसी कई सुपरहिट फिल्मों में साथ काम किया है। नीलम से ब्रेकअप के बाद गोविंदा की शादी सुनीता आहूजा से हुई उनके दो बच्‍चे भी हैं। नर्मदा आहूजा और यशवर्धन आहूजा।

खाद के विज्ञापन से मिला पहला ब्रेक

गोविंदा के करियर का पहला ब्रेक एक खाद का विज्ञापन था। फिल्मों में उनका पहला मुख्य रोल उनके अंकल आनंद द्वारा निर्देशित फिल्म में था। गोविंद की सभी फिल्में हिट रहीं है। आंखे, कुली नंबर वन, ताकतवर, राजा बाबू, दुलारा, खुद्दार, साजन चले ससुराल, हीरो नंबर वन, हसीना मान जाएगी, शिकारी जैसी फिल्मों ने खूब मनोरंजन किया। गोविंदा ने पहली बार डेविड धवन के साथ फिल्म ताकतवर में काम किया था। गोविंदा ने निर्देशक डेविड धवन की कई फिल्मों में काम किया है। उनके सबसे पसंदीदा कलाकार कादर खान हैं। कादर खान के साथ गोविंदा ने कई फिल्मों में काम किया। लगभग हर फिल्म में कादर खान कभी गोविंदा के ससुर बने तो कभी पिता, तो कभी दादा का किरदार निभाया। गोविंदा कादर खान को पिता की तरह मानते हैं। 

कई बार हुए सम्मनित 

गोविंदा को अब तक 12 फिल्मफेयर अवार्ड के लिए नॉमिनेट हो चुके हैं। गोविंदा को एक विशेष फिल्मफेयर अवार्ड और बेस्ट कॉमेडियन का फिल्मफेयर अवार्ड मिल चुका है। उनके नाम चार जी सिने अवार्ड भी हैं। गोविंदा 2004 से 2009 तक संसद भवन के सदस्य भी रह चुके है। अब तक वे तक़रीबन 165 हिंदी फिल्में कर चुके है। बीबीसी न्यूज़ ऑनलाइन पोल में सर्वाधिक वोट पाने वाले की सूची में भी गोविंदा का नाम दसवें स्थान पर थे।

धर्मेंद्र के है जबरदस्त फैन हैं गोविंदा

आपको बता दें कि हमारे चीची हीमैन धर्मेंद के इतनी बड़े फैन है कि जब उनकी पत्नी गर्भवती थी तब उन्होंने पत्नी को धर्मेन्द्र की फोटो पास में रखने को दिया था ताकि गोविंदा की आने वाली संतान धर्मेन्द्र की तरह खूबसूरत हो। अपने करियर में इन्होंने डबल रोल साथ फिल्म हद कर दी आपने में छह रोल निभाए।