दैनिक भास्कर हिंदी: नवाजुद्दीन आरोपी नहीं गवाह के तौर पर जारी हुआ है समन

March 17th, 2018

डिजिटल डेस्क,मुंबई। पत्नी के कॉल डेटा रिकॉर्ड (सीडीआर) गैरकानूनी तरीके से हासिल करने के मामले में अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी की कोई सीधी भूमिका नहीं हैं। अभिनेता को गवाह के तौर पर अपना बयान दर्ज कराने के लिए बुलाया गया है। उन्होंने जांच में सहयोग का भरोसा दिया है। ठाणे पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी है। 

वकील के करीबी पुलिस पर लगा रहे आरोप
इससे पहले शुक्रवार को ही अभिनेता के वकील रिजवान सिद्दीकी को ठाणे पुलिस की क्राइम ब्रांच ने जांच में सहयोग न करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया था। आरोप है कि रिजवान ने ही गैरकानूनी तरीके से मामले के दूसरे आरोपियों से नवाजुद्दीन सिद्दीकी की पत्नी का कॉल डेटा रिकॉर्ड हासिल किया था। वकील के करीबी आरोप लगा रहे थे कि ठाणे पुलिस ने उन्हें कानूनी प्रक्रिया का पालन किए बिना गिरफ्तार किया है। लेकिन पुलिस ने इस मामले में आरोपों को गलत बताया कि उन्हें कानूनी तरीके से जांच में शामिल होने और बयान दर्ज कराने को कहा गया था। क्राइम ब्रांच के मुताबिक ठाणे पुलिस की टीम 41 ए के तहत नोटिस देने वकील के दफ्तर गई थी। लेकिन इसे स्वीकार नहीं किया गया।

पुलिस ने कहा- रिजवान ने जांच में सहयोग नहीं किया
एक पुलिस अधिकारी के मुताबिक अभिनेता, उनकी पत्नी और वकील तीनों को समन भेजकर बयान दर्ज करने के लिए बुलाया गया था। पुलिस के मुताबिक बचाव का पूरा मौका दिए जाने के बाद भी वकील रिजवान ने जांच में सहयोग नहीं किया इसके चलते उसे गिरफ्तार करने का फैसला किया गया। बता दें कि आरोपियों जिगर मकवाना और अजिंक्य नागरगोजे से पूछताछ के दौरान खुलासा हुआ था कि नवाजुद्दीन ने अपने वकील रिजवान के जरिए पत्नी का सीडीआर हासिल किया था। इसी मामले में देश की पहली महिला जासूस रजनी पंडित की भी गिरफ्तारी हुई थी। रजनी को पिछले दिनों जमानत मिल गई थी।