comScore

पाउलो कोएल्हो को पसंद आई शाहरुख की फिल्म कामयाब

May 06th, 2020 22:30 IST
 पाउलो कोएल्हो को पसंद आई शाहरुख की फिल्म कामयाब

हाईलाइट

  • पाउलो कोएल्हो को पसंद आई शाहरुख की फिल्म कामयाब

मुंबई, 6 मई (आईएएनएस)। मशहूर ब्राजीलियाई लेखक पाउलो कोएल्हो ने बुधवार को शाहरुख खान के होम प्रोडक्शन में बनी हालिया फिल्म कामयाब की तारीफ की। उन्होंने कहा कि कॉमेडी की तर्ज पर बनाई गई यह फिल्म वास्तव में फिल्मी दुनिया में सह-चरित्र कलाकारों के संघर्ष को बयां करता है।

पाउलो के ट्वीट पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए शाहरुख ने उनका शुक्रिया अदा किया।

कामयाब के संदर्भ में ब्राजीलियाई अभिनेता-फिल्मकार फ्लेवियो मिग्लिआसियो की आत्महत्या का जिक्र करते हुए पाउलो ने ट्वीट किया, सबसे पहले निर्माता को मेरी तरफ से धन्यवाद। मैं भी कुछ ऐसा ही कर रहा हूं। दो दिन पहले ब्राजील के महान अभिनेता फ्लेवियो मिग्लिआसियो ने आत्महत्या कर ली। उन्होंने अपने नोट में लिखा था कि किस तरह से इंडस्ट्री अपने कलाकारों संग पेश आती है। यह फिल्म जिसे कॉमेडी फिल्म बताया जा रहा है, वास्तव में ट्रैजिडी ऑफ आर्ट है।

शाहरुख की फिल्म निर्माण कंपनी रेड चिलीज ने दृश्यम फिल्म्स के साथ मिलकर इसे बनाया है।

शाहरुख ने इसके जवाब में लिखा, महोत्सवों में दिखाए जाने के दौरान यह फिल्म देखी थी और इसने रेड चिलीज एंटरटेनमेंट की पूरी टीम के दिल को छुआ है। मैं आपकी सराहना से अभिभूत हूं। यह दुखद है कि कैरेक्टर अभिनेता भुला दिए जाते हैं। अपना ख्याल रखें मेरे दोस्त और सुरक्षित व स्वस्थ रहें।

कामयाब के निर्देशक हार्दिक मेहता हैं और फिल्म में संजय मिश्रा व दीपक डोबरियाल मुख्य किरदारों में हैं।

कोएल्हो की ट्वीट पर जवाब देते हुए संजय मिश्रा ने लिखा, लेकिन विडंबना यह है कि यहां दर्शक केवल कॉमेडी को ही मनोरंजक समझते हैं, कामयाब कॉमेडी नहीं है, यह जिंदगी का एक टुकड़ा है।

कमेंट करें
Z6Xkr
NEXT STORY

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। टोक्यो ओलंपिक का काउंटडाउन शुरु हो चुका हैं। 23 जुलाई से शुरु होने जा रहे एथलेटिक्स त्यौहार में भारतीय दल इस बार 120 खिलाड़ियों के साथ 18 खेलों में दावेदारी पेश करेगा। बता दें 81 खिलाड़ियों के लिए यह पहला ओलंपिक होगा। 120 सदस्यों के इस दल में मात्र दो ही खिलाड़ी ओलंपिक पदक विजेता हैं। पी.वी सिंधू ने 2016 रियो ओलंपिक में सिल्वर तो वहीं मैराकॉम ने 2012 लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था।

भारत पहली बार फेंनसिग में चुनौता पेश करेगा। चेन्नई की भवानी देवी पदक की दावेदारी पेश करेंगी। भारत 20 साल के बाद घुड़सवारी में वापसी कर रहा है, बेंगलुरु के फवाद मिर्जा तीसरे ऐसे घुड़सवार हैं जो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। 

olympic

युवा कंधो पर दारोमदार

टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने जा रहे भारतीय दल में अधिकतर खिलाड़ी युवा हैं। 120 खिलाड़ियों में से 103 खिलाड़ी 30 से भी कम आयु के हैं। मात्र 17 खिलाड़ी ही 30 से ज्यादा उम्र के होंगे। 

भारतीय दल में 18-25 के बीच 55, 26-30 के बीच 48, 31-35 के बीच 10 तो वहीं 35+ उम्र के 7 खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। इस लिस्ट में सबसे युवा 18 साल के दिव्यांश सिंह पंवार हैं, जो शूटिंग में चुनौता पेश करेंगे, तो वहीं सबसे उम्रदराज 45 साल के मेराज अहमद खान होंगे जो शूटिंग में ही पदक के लिए भी दावेदार हैं।