दैनिक भास्कर हिंदी: राज को राहत नहीं, 14 दिन की न्यायिक हिरासत बढ़ी, नए मामले में फंसे राज कुंद्रा

July 27th, 2021

हाईलाइट

  • कुंद्रा को 14 दिन की न्यायिक हिरासत
  • अभियोजन पक्ष को सुनेगी अदालत
  • याचिका पर 29 जुलाई 2021 को सुनवाई

डिजिटल डेस्क, मुंबई। पोर्नोग्राफी केस में किला कोर्ट ने राज कुंद्रा को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। राज के वकील ने उनकी जमानत के लिए अर्जी देते हुए कहा कि अब जांच पूरी हो गई है तो राज को जमानत दे दी जाए। हालांकि कोर्ट ने फिलहाल उनकी न्यायिक हिरासत की अवधि बढ़ा दी है। बता दें कि 27 जुलाई तक राज पुलिस कस्टडी में थे। अश्लील फिल्मों के निर्माण और उसे एप पर प्रसारित करने को लेकर गिरफ्तार कुंद्रा को तत्काल राहत देने का आदेश जारी करने से कोर्ट ने इंकार कर दिया है। हाईकोर्ट ने कहा कि इस मामले में हम अभियोजन पक्ष को सुनने के बाद ही कोई आदेश जारी करेंगे। 

मंगलवार को न्यायमूर्ति अजय गड़करी के सामने कुंद्रा की याचिका पर सुनवाई हुई। याचिका पर गौर करने के बाद न्यायमूर्ति ने पुलिस को कुंद्रा की याचिका पर हलफनामा दायर करने का निर्देश दिया। 19 जुलाई को गिरफ्तार किए गए कुंद्रा ने याचिका में अपनी गिरफ्तारी को अवैध बताया है। सुनवाई के दौरान कुंद्रा की ओर से पैरवी कर रहे वरिष्ठ अधिवक्ता आबाद पोंडा ने कहा कि पुलिस ने मेरे मुवक्किल को गिरफ्तार करते समय कानूनी प्रक्रिया का पालन नहीं किया है। पुलिस ने मेरे मुवक्किल को गिरफ्तार करने से पहले आपराधिक प्रक्रिया संहिता की धारा 41 ए के तहत नोटिस नहीं जारी किया है। इसका विरोध करते हुए सरकारी वकील अरुणा पई ने कहा कि आरोपी को गिरफ्तारी से पहले 41ए के तहत नोटिस जारी की गई थी। इस पर न्यायमूर्ति ने सरकारी वकील को मामले को लेकर हलफनामा दायर करने को कहा। इस पर पोंडा ने कहा कि मेरे मुवक्किल को अगली सुनवाई तक अंतरिम राहत प्रदान की जाए, लेकिन न्यायमूर्ति ने कहा कि जब तक हम अभियोजन पक्ष को नहीं सुन लेंगे, तब तक अंतरिम राहत का आदेश नहीं जारी करेंगे। न्यायमूर्ति ने अब कुंद्रा की याचिका पर 29 जुलाई 2021 को सुनवाई रखी है। याचिका में कुंद्रा ने कहा है कि उनके वीडियों को कामुक कहा जा सकता है लेकिन इसे अश्लील फिल्म की संज्ञा नहीं दी जा सकती है। क्योंकि उसमे कोई यौन क्रिया नहीं दिखाई गई है। पुलिस ने कुंद्रा के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 420, 34, 292 व 293 के अलावा सूचना प्रद्योगिकी कानून की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। कुंद्रा फिलहाल न्यायिक हिरासत में है। 

केस में हो रहे हैं नए खुलासे 

राज कुंद्रा केस में लगातार नए खुलासे हो रहे हैं। पहले एक H अकाउंट्स नाम के ग्रुप की व्हाट्सएप चैट सामने आई थी और उस ग्रुप के एडमिन राज थे। सूत्रों के मुताबिक, इस ग्रुप में मॉडल्स के पेमेंट उनके रेवेन्यू से जुड़ी बातचीत होती थी। हाल ही में एक खबर ये भी आई थी कि जब फरवरी में पोर्नोग्राफी रेकेट के बारे में पता चला था तब राज कुंद्रा ने अपना मोबाइल फोन चेंज किया था। 

नई मुश्किल में राज

इस बीच राज कुंद्रा एक और मुश्किल में फंसते नजर आ रहे हैं। अहमदाबाद के एक व्यापारी हीरेन परमान ने उन पर 3 लाख की ठगी का आरोप लगाया है। व्यापारी का आरोप है कि कुंद्रा की फर्म वियान इंडस्ट्रीज ने उनसे तीन लाख रुपए ठगे थे। पैसे वापस मांगने पर उन्होंने जवाब देना भी बंद कर दिया।

खबरें और भी हैं...