दैनिक भास्कर हिंदी: 2 साल बाद बड़े पर्दे पर फिर से दिखेंगे जॉन, 25 मई को होगी फिल्म रिलीज

May 20th, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। 'मद्रास कैफे' जैसी सीरियस फिल्म और 'विकी डोनर' जैसी लीक़ से हटकर जुदा सब्जेक्ट वाली फिल्म लेकर आने वाले जॉन अब्राहम 2 साल बाद सिल्वर स्क्रीन पर वापसी कर रहे हैं। जॉन आगामी फिल्म परमाणु: द स्टोरी ऑफ पोखरन में नजर आने वाले हैं। इस फिल्म को लेकर फिल्म के डायरेक्टर अभिषेक शर्मा और जॉन अब्राहम ने पत्रकारों से चर्चा की। जिसमें जॉन ने फिल्म से जुड़ी कई बातें साझा की, साथ ही इस चर्चा के दौरान जॉन ने कहा कि फिल्म का असली हीरो उसका डायरेक्टर होता है। 
 


डायरेक्टर है फिल्म का असली हीरो

इस दौरान जॉन ने पत्रकारों के कई सवालों के जवाब दिए। जॉन ने कहा कि इस फिल्म का पूरा क्रेडिट अभिषेक को जाता है। अभिषेक ने ही ये स्टोरी सजेस्ट की थी। जॉन ने बताया कि आजकल की युवा पीढ़ी ऐसे सबजेक्ट्स के बारे में नहीं जानती हैं। ऐसी ऑडियंस के लिए ये फिल्म बनाई गई है। इस फिल्म की स्टोरी एक यूनिक स्टोरी है। ये फिल्म एक नॉन फॉर्म्यूला फिल्म है जिसमें कोई हीरो नहीं है। अगर इस फिल्म का कोई हीरो है तो वो इस फिल्म की कहानी, इसका आइडिया, इसका कंटेन्ट और इसके डायरेक्टर्स हैं। 
 


क्या खास है फिल्म में

इस फिल्म की कहानी 1998 में अटल सरकार के कार्यकाल में पोखरन में हुए परमाणु परीक्षण पर आधारित है। यह परमाणु परीक्षण 11 मई 1998 को हुआ था। पोखरण का परमाणु परीक्षण भारत के इतिहास का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। जिसके बारे में हमारी युवा पीढ़ी नहीं जानती है। फिल्म के डायरेक्टर अभिषेक ने बताया कि इस फिल्म में एक एनालिसिस है जिसमें बताया गया है कि हिंदुस्तान का हर इंसान अपने आप में एक परमाणु है और जब वो साथ आते हैं तो ऐसा ही एक धमाका होता है। इस फिल्म में हमारे देश की खासियत बताई गई है कि हम बार-बार अपने पैरों पर खड़े हो जाते हैं। 11 मई वो दिन था जब हम अपने पैरों पर खड़े हुए थे। 
 


25 मई को होगी रिलीज

ये फिल्म देशभर के सिनेमाघरों में 25 मई को रिलीज होने जा रही है। फिल्म को क्रिराज एंटरटेनमेंट और जे ए एंटरटेनमेंट ने मिलकर प्रड्यूस किया है। इस फिल्म में जॉन के अलावा डायना पेंटी और बमन ईरानी लीड रोल्स में हैं। फिल्म के डायरेक्टर अभिषेक शर्मा हैं जो इससे पहले अली ज़फर स्टारर 'तेरे बिन लादेन' बना चुके हैं।