comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

‘द वर्डिक्ट-स्टेट वर्सेज नानावटी’ का दूसरा ट्रेलर रिलीज, इस दिन स्ट्रीम होगी वेब सीरीज

‘द वर्डिक्ट-स्टेट वर्सेज नानावटी’ का दूसरा ट्रेलर रिलीज, इस दिन स्ट्रीम होगी वेब सीरीज

डिजिटल डेस्क, मुम्बई। केएम नानावटी केस पर आधारित वेब सीरीज ‘द वर्डिक्ट-स्टेट वर्सेज नानावटी’ का दूसरा ट्र्रेलर रिलीज हो गया है। ‘ऑल्ट बालाजी’ की ओनर एकता कपूर ने इस सीरीज के ट्रेलर को सोशल मीडिया अकाउंट्स पर शेयर किया है। इस केस को मशहूर दिवंगत वकील राम जेठमलानी की जुबानी दिखाया जाएगा। इस सीरीज को ओटीटी प्लेटफॉर्म ‘ऑल्ट बालाजी’ और ‘जी 5’ पर दिखाया जाएगा। यह सीरीज 30 सितम्बर को स्ट्रीम होगी। 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

Year 1959. A progressive India, dominated by a patriarchal society, witnesses one of its most debated & controversial jury trial. Parsi Naval Commander Kawas Nanavati, in an encounter with his wife’s alleged extramarital partner, Sindhi businessman Prem Ahuja, fires 3 gunshots! Then, begins a war of communities, opinions, sexes & moralities. The nation’s hero goes to trial, but the society & media pass their Verdict, before the jury could judge 'innocent or guilty’… #TheVerdictStateVsNanavati – The case that divided India. Streaming on 30th September. #ALTBalajiOriginal #ZEE5Original @altbalaji @zee5premium @shobha9168 @manavkaul @elliavrram @kubbrasait @angadbedi @makarand_v_deshpande @sumeetvyas @saurabhshuklafilms @swanandkirkire @sonirazdan @virafpp @poojagor @shashantshah @samkhan @dhruvdawer @iradaentertainment @baljitsinghchaddha n special thanks to @kenghosh Disclaimer - This show is based on true events and facts and reference to plots, incidents and people shall be made. Any diversion or error is completely unintentional. We do not intend to be disrespectful to Indian Judiciary, Indian naval forces, community, religious sentiments or beliefs of any person.

A post shared by Erkrek (@ektaravikapoor) on

वेब सीरीज ‘द वर्डिक्ट-स्टेट वर्सेज नानावटी’ में मानव कौल नेवी आफिसर की भूमिका में हैं। एली अवराम उनकी पत्नी की भूमिका निभा रही हैं। वहीं सीरीज के दूसरे ट्रेलर में राम जेठमलानी के किरदार को दिखाया गया है। ​सुमित व्यास इस सीरीज में राम जेठमलानी के किरदार में हैं। इसके अलावा सौरभ शुक्ला, अंगद बेदी, पूजा गौर, विरफ पटेल, मकरंद देशपांडे और कुब्रा सैत भी मुख्य भूमिका में हैं। 

गौरतलब है कि जिन मशहूर वकील राम जेठमलानी की जुबानी इस सीरीज को फिल्माया गया है, बीते 8 सितंबर को उनका निधन हो गया था। रिपोर्ट्स के अनुसार, वकालत पूरी करने के बाद केएम नानावटी का केस जेठमलानी का पहला केस था। इसी केस की वजह से वे एक हाई प्रोफाइल वकील की लिस्ट में शामिल हो गए थे। 

कमेंट करें
czmZJ
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।