दैनिक भास्कर हिंदी: कंगना पर सोना महापात्र की टिप्पणी : अवसरवाद का सबसे बुरा उदाहरण

September 18th, 2020

हाईलाइट

  • कंगना पर सोना महापात्र की टिप्पणी : अवसरवाद का सबसे बुरा उदाहरण

मुंबई, 18 सितम्बर (आईएएनएस)। गायिका सोना महापात्र ने यह कहते हुए अभिनेत्री कंगना रनौत की आलोचना की है कि मौत की एक दुखद घटना का इस्तेमाल करते हुए खुद को मसीहा साबित करना, अवसरवाद का सबसे बुरा उदाहरण है।

बॉलीवुड में ड्रग के इस्तेमाल पर अपनी बात रखने के लिए कंगना पिछले कई दिनों से सूर्खियों में बनी हुई हैं। इसे लेकर वह कई सेलेब्रिटीज पर निशाना भी साध चुकी हैं।

सोना ने साल 2017 में प्रकाशित एक आर्टिकल के लिंक को साझा करते हुए ट्वीट किया, जिसमें कंगना पर बोलने के लिए उनकी जमकर आलोचना की गई।

सोना लिखती हैं, उनके मुंह से निकले हुए अपमानजनक शब्द अब मुझे फेमिनिज्म पर बढ़ चढ़कर बोलने वाले लोगों को लेकर हैरत में डाल रहे हैं। साल 2017 में जब मैंने कंगना पर अपनी बात रखी थी, तब इन्हीं लोगों ने मुझ पर निशाना साधा था। मैं खुद पर गर्व नहीं कर रही हूं, लेकिन मेरे शब्दों का चुनाव कहीं से भी गलत नहीं था।

वह आगे लिखती हैं, दूसरों को गोल्ड डिगर, माफिया बिंबो, सस्ती कॉपी, सॉफ्ट पॉर्न स्टार कहकर किसी की दुखद मौत का इस्तेमाल कर खुद को लोगों का मसीहा कहलवाना अवसरवाद का एक सबसे घटिया उदाहरण है।

एएसएन/आरएचए